जानें मोती रत्न किस राशि के लिए शुभ और अशुभ होता है । | Future Point

जानें मोती रत्न किस राशि के लिए शुभ और अशुभ होता है ।

By: Future Point | 03-Jun-2019
Views : 28346
जानें मोती रत्न किस राशि के लिए शुभ और अशुभ होता है ।

मोती मुख्यतः रत्न नहीं बल्कि एक जैविक संरचना है, इसके बावजूद भी मोती को नव रत्नों की श्रेणी में रखा जाता है. मोती मुख्य रूप से चन्द्रमा का रत्न माना जाता है, कभी - कभी विशेष रूप से औषधि के रूप में भी मोती का प्रयोग किया जाता है. चन्द्रमा की तरह इसका रत्न मोती भी शांत, सुन्दर और शीतल होता है, अतः इसका सीधा प्रभाव व्यक्ति के मन और शरीर के रसायनों पर पड़ता है. मोती का प्रभाव कभी तेज नहीं होता, यह धीरे-धीरे और सूक्ष्म असर डालता है इसलिए लोगों को लगता है कि मोती कभी नुकसान नहीं कर सकता जबकि मोती धीरे धीरे काफी नुकसान पहुंचा सकता है. आइये आपको बताते हैं कि मोती रत्न किस राशि के जातक के लिए शुभ फल प्रदान करता है और किस राशि के जातक को हानि पहुंचा सकता है।

इन राशि के जातकों के लिए शुभ फल प्रदान करता है मोती रत्न –

मेष राशि :

मेष राशि के जातकों की जन्म कुंडली में चन्द्रमा चौथे घर का मालिक होता है, और ये स्थान शुभ है, एवं इसका संबंध माता, भूमि, भवन, वाहन और सुख से होता है, अतः मेष राशि वाले जातकों को मोती धारण करना चाहिए, मोती धारण करने से मेष राशि के जातकों को इन विषयों के शुभ परिणाम प्राप्त होते हैं।

Buy Agate (Gomed) Online


कर्क राशि :

कर्क राशि के जातकों की कुंडली में ग्रह स्वामी चन्द्रमा होता है और लग्न का स्वामी है, शरीर का स्वामी है, अतः कर्क राशि वाले जातकों को मोती अवश्य ही पहनना चाहिए, इससे आपका माइंड एंड बॉडी कॉर्डिनेशन बेहतर हो जायेगा और इसके साथ ही मन का शरीर के साथ ताल्लुक अच्छा रहेगा और आप चीज़ें बेहतर डायरेक्शन में ले जायेंगे इसलिए मोती रत्न कर्क राशि के जातकों के लिए लिये बेहद शुभ होगा।

तुला राशि :

तुला राशि वाले जातकों की कुंडली में चन्द्रमा दसवें घर का स्वामी होता है, जो कि करियर और पिता का स्थान होता है, अतः तुला राशि वाले जातकों को मोती अवश्य ही धारण करना चाहिए, मोती पहनने से पिता को फायदा होगा और करियर बेहतर होगा।

Buy Sapphire (Neelam) Gemstone Online


वृश्चिक राशि :

वृश्चिक लग्न वाले जातकों की कुंडली में चन्द्रमा भाग्य स्थान का स्वामी है, लेकिन यहां एक विडंबना है कि चन्द्रमा इसी राशि में यानी वृश्चिक राशि में नीच का हो जाता है, इसलिए वृश्चिक राशि वाले जातकों को मोती तो पहनना चाहिए परन्तु इसके साथ ही चन्द्रमा का यंत्र भी पहनना चाहिए, बिना चन्द्र यंत्र के मोती नहीं पहनना चाहिए, क्योंकि चन्द्र यंत्र चन्द्रमा के नीचत्व को रोकेगा और मोती आपके भाग्य को बढ़ायेगा।


मीन राशि :

मीन लग्न वाले जातकों की कुंडली में चन्द्रमा पांचवे घर का मालिक होता है, और ये स्थान शुभ होता है अतः मीन राशि के जातकों को मोती अवश्यपहनना चाहिए, मोती पहनने से अगर आपके संतान नहीं है तो संतान हो जायेगी और अगर संतान है तो संतान की बेहतरी, उसकी उन्नति होगी और अगर आप स्टूडेंट हैं तो आपको मोती पहनने से सक्सेस मिलेगी।

Also Read जानें पुखराज रत्न किस राशि के लिए शुभ और अशुभ होता है ।

इन राशि के जातकों को धारण नही करना चाहिए मोती रत्न -

वृषभ राशि :

वृषभ लग्न वाले जातकों की कुंडली में चन्द्रमा तीसरे घर का स्वामी होता है जो कि अकारक है, यदि वृषभ राशि के जातकों की जन्म कुंडली में चन्द्रमा लग्न में न बैठा हो तो वृषभ राशि वाले जातकों को मोती नहीं पहनना चाहिए, मोती पहनने से भाई-बहनों से संबंध खराब हो जायेंगे और कुछ बुरा भी हो सकता है।


मिथुन राशि :

मिथुन लग्न वाले जातकों की कुंडली में चन्द्रमा दूसरे घर का स्वामी होता है, जो कि मारकेश है, अतः मिथुन राशि वाले जातकों को मोती नहीं पहनना चाहिए, यदि मोती पहनेंगे तो आपको मानसिक तनाव का सामना करना पड़ सकता है।


सिंह राशि :

सिंह लग्न वाले जातकों की कुंडली में चन्द्रमा बारहवें घर का स्वामी होता है, अतः सिंह राशि वाले जातकों को मोती नहीं पहनना चाहिए, यदि आप मोती पहनेंगे तो आपको भारी खर्चों का सामना करना पड़ेगा और साथ ही सर्दी, जुकाम, जकड़न, ये सब समस्याएं भी आपको हो सकती हैं।

Also Read: बारह मुखी रुद्राक्ष कर सकता है सभी प्रकार की पीड़ाये खत्म


कन्या राशि :

कन्या लग्न वाले जातकों की कुंडली में चन्द्रमा ग्यारहवें स्थान का स्वामी है, जो कि अकारक स्थान है, अतः कन्या राशि वाले जातकों को को मोती नहीं पहनना चाहिए, यदि आप मोती पहनेंगे तो हो सकता है अचानक आपकी आमदनी बढ़ जाये, परन्तु जो मुश्किलें आयेंगी, वो उस आमदनी से कहीं ज्यादा होंगी, इसलिए आप मोती न ही पहनें, तो अच्छा है।


धनु राशि :

धनु लग्न वाले जातकों की कुंडली में चन्द्रमा आठवें घर का स्वामी होता है, यानी कि अष्टमेश है और अष्टमेश अशुभ माना जाता है, इसलिए धनु राशि वाले जातकों को मोती नहीं पहनना चाहिए, परन्तु यदि आपने मोती पहन लिया तो आपको बुरे-बुरे सपने आयेंगे और आपका मन भी दुःखी रहेगा।


मकर राशि :

मकर लग्न वाले जातकों की कुंडली में चन्द्रमा सातवे घर का स्वामी होता है, और सातवे घर को सप्तमेश भी कहते हैं और सप्तमेश मारकेश होता है, इसलिए मकर राशि के जातकों को मोती नहीं पहनना चाहिए, यदि आप मोती पहनेंगे तो आपमें सुसाइडल टेंडेंसीज़ हो सकती हैं और आपके मन में गलत ख्याल आयेंगे, इसलिए आपको मोती से जितना हो सके बचना चाहिए।


कुंभ राशि :

कुंभ लग्न वाले जातकों की कुंडली में चन्द्रमा छठे घर का स्वामी होता है, जो कि अकारक है, इसलिए यदि आप मोती पहनेंगे तो आपको सर्दी, जुकाम, नजला तो होगा ही और साथ ही आपके दोस्त भी दुश्मन बन जायेंगे इसलिए मोती आपको बिलकुल नही पहनना चाहिए अन्यथा आपको मेंटल डिसऑर्डर का सामना भी करना पड़ सकता है।

कंसल्ट करें हमारे एस्ट्रोलॉजर से कि कौन सा रत्न आपके लिए लाभकारी है


Previous
राशि अनुसार रत्न धारण करने से मिलती है कमजोर ग्रहों को शक्ति ।

Next
शनि के इस रत्न को धारण करने के बाद ये गलतियां बना सकती हैं कंगाल