जॉब चेंज कब कर सकते हैं - 2019

By: Future Point | 19-Jan-2019
Views : 11806
जॉब चेंज कब कर सकते हैं - 2019

निरंतर बदलते रहने का नाम ही जीवन है। प्रकृति के साथ प्रत्येक सजीव वास्तु में समय के साथ बदलाव होता रहता है। मानव का स्वयं का जीवन बदलाव की कई पगडंडियों से होता हुआ, सफलता के शिखर तक पहुँचता है। किसी ने सच ही कहा है की यदि बहता पानी ठहर जाए तो वह सड़कर कीचड़ बन जाता है। आज के आधुनिक समय में आगे से आगे निकलने की होड़ में काम करने वाला प्रत्येक व्यक्ति नौकरी में बदलाव और पहले से बेहतर विकल्प की तलाश में रहता है, इसे समय की मांग कहें या आधुनिक परिस्थितियां नौकरी पेशा व्यक्ति के दिमाग में जॉब चेंज के विचार अक्सर आते रहते है।

हाँ यह सही है की इन विचारों के कारण सभी के लिए भिन्न भिन्न हो सकते है, कोई व्यक्ति बेहतर सैलरी की तलाश में, कोई बेहतर माहौल की तलाश में, कोई बेहतर पद की तलाश में, कोई बेहतर प्रोफाईल की तलाश और कोई बेहतर उच्चाधिकारियों की तलाश में नौकरी में बदलाव का मार्ग चुनता है। नौकरी में स्थानांतरण के रास्ते सबके अलग अलग हो सकते है परन्तु मंजिल सबकी एक ही होती है, सभी अपनी मानसिक, सामाजिक और आर्थिक स्थिति में बदलाव कर बेहतर जीवन की चाह रखते है। नयी नौकरी ज्वाइन करने वाला हर व्यक्ति प्रारम्भ में प्रसन्न और संतुष्ट होता है, समय बीतने के साथ ही मानसिक स्थिति फिर से बदलाव का सोचने लगती है।

यह क्यों होता है? हम सभी का जीवन, हमारी मानसिक स्थिति, शारीरिक स्थिति और हमारे जीवन की क्रिया-प्रतिक्रियाएं सभी ग्रह, दशा और गोचर के द्वारा ही निर्धारित है। ग्रहों की दशाएं, गोचर बदलने के साथ ही हम सभी जीवन की किसी ना किसी क्षेत्र में बदलाव करना चाहते है। सामान्यता नौकरी करने वालों का एक सामान्य और सबसे अधिक किया जाने वाला प्रश्न होता है की हमें नयी नौकरी कब मिलेगी, या नौकरी में बदलाव कब होगा? इस समस्या का समाधान एक योग्य ज्योतिषी आपकी कुंडली देख कर सरलता से करा सकता है। इस विषय में ज्योतिषीय योग क्या कहते है? आइए जाने-

जॉब बदलने से जुड़े भाव


दूसरा भाव वैदिक ज्योतिष में धन भाव और एकादश भाव को आय भाव के नाम से जाना जाता है। कोई व्यक्ति जीवन में कितनी आय अर्जित करेगा यह आय भाव से और वह आय में से क्या बचाएगा यह धन भाव से जाना जाता है। दशम भाव कर्म भाव है। कोई व्यक्ति अपनी कार्यक्षेत्र में सुविधाजनक महसूस कर रहा है या नहीं यह दशम भाव का विश्लेषण कर जाना जा सकता है। सामान्यता जिन जातकों की कुंडली में चतुर्थ भाव पीड़ित होता है, वो लोग शीघ्र परिवर्तन का सोचते है। दशम भाव के स्वामी का तीसरे, पांचवें और आठवें एवं बारहवें भाव पर गोचर से कार्यक्षेत्र में स्थानांतरण जाना जा सकता है।

जिन व्यक्तियों को विदेश में नौकरी की चाह हो उन व्यक्तियों की कुंडलियों में बारहवें भाव का विचार करने के साथ साथ चतुर्थ भाव की पीड़ा का विचार प्रथम करना चाहिए। बारहवें भाव से ही व्यक्ति की सेवानिवृति का अध्ययन किया जाता है। वैसे तो किसी भी घटना के घटित होने में कुंडली के योगों के अतिरिक्त दशा की भूमिका भी अहम् होती ही परन्तु यहाँ हम दशमेश के गोचर और मंगल ग्रह के विभिन्न भावों पर गोचर का अध्ययन किया जाता है। सम्बंधित ग्रहों की दशाओं को यहाँ नहीं देखा गया है।

नौकरी में बदलाव के ज्योतिषीय योग


  • यदि गोचर में 1, 4, 7 और 10वां भाव पीड़ित हों तो व्यक्ति के मन में स्थानांतरण के विचार आते हैं।
  • जब दशम भाव में नीचस्थ ग्रह हो या दशम भाव में अस्त ग्रह स्थित हो, साथ ही ऐसे ग्रह की दशा/अन्तर्द्शा भी प्रभावी हों तो व्यक्ति को कार्यक्षेत्र में असुविधा के चलते नौकरी में बदलाव करता है।
  • गोचर में चतुर्थ भाव का अशुभ ग्रहों के प्रभाव में आने पर व्यक्ति के सुख-संतोष में कमी होती है और वह बदलाव का सोचने लगता है। वर्तमान में स्थान परिवर्तन का सोचने लगता है।
  • यदि किसी जातक की कुंडली में चौथा भाव प्रभावित है तो यह स्थानांतरण का संकेत है।
  • जब सूर्य केंद्र भाव में हो और नीचस्थ हो, उस स्थिति में भी सरकारी क्षेत्रों में काम करने वाले व्यक्तियों को दिक्कतों का सामना करना पड़ता है।
  • गोचर में जब दशम भाव का स्वामी तीसरे, पांचवें या आठवें भाव में गोचर करें उस समय नौकरी में स्थानान्तरण के प्रयास सफल होते है।

नौकरी में स्थानांतरण के ज्योतिषीय योग


  • गोचर में शनि जब मित्र ग्रहों के साथ अष्टम भाव पर गोचर करता है तो नौकरी में बदलाव देता है।
  • गुरु ग्रह जब गोचर में दशम भाव के स्वामियों पर से भ्रमण करता है तो मनपसंद स्थान पर स्थान परिवर्तन देता है।
  • तीसरे, पांचवें और आठवें भाव के स्वामियों की दशा प्रभावी होने पर स्थानांतरण के योग बनते है।
  • दशम भाव, बारहवें भाव, तीसरे, पांचवें और आठवें भाव पर शनि का गोचर भी कार्यक्षेत्र में बदलाव देता है।
  • वैदिक ज्योतिष शास्त्र के अनुसार जन्मपत्री का तीसरा और बारहवां भाव मुख्य रुप से स्थानांतरण के लिए देखा जाता है। इन दोनों भावों के स्वामियों के मध्य गोचर में संबंध बनने पर नौकरी में बदलाव हो सकता है।
  • एकादश भाव स्थानांतरण के समय सक्रिय हो रहा हो तो नौकरी बदलने पर आय वृद्धि भी होती है।

अपनी कुंडली का विश्लेषण किसी योग्य ज्योतिषी से करा कर आप अपनी नौकरी में बदलाव का अनुकूल समय जान सकते हैं। यह आपको कम समय में एक अच्छी नौकरी तलाशने में सहयोग करेगा। आज हम आपको इस आलेख के माध्यम से यह बता रहे हैं कि साल की किस समयावधि में आपको नौकरी स्थानांतरण के लिए प्रयास करने चाहिए। यह आलेख आपकी लग्न राशि पर ग्रह गोचर पर आधारित है।-

मेष लग्न


Aries6

आपकी कुंडली में मंगल लग्न भाव के स्वामी होने के कारण आपको आगे बढ़ने के लिए प्रेरित करने वाले ग्रह मंगल ही है। इसलिए इनका तीसरे भाव पर गोचर, पांचवें भाव पर गोचर की अवधि में आप स्थान परिवर्तन कर नौकरी बदल सकते हैं। नौकरी में बदलाव का सोच रहे हैं तो आप इसके लिए निम्न अवधि का प्रयोग कर सकते हैं।

22 मार्च से 07 मई के मध्य और 22 जून से 25 सितम्बर के मध्य का समय। इसके अलावा आप 10 नवम्बर से 25 दिसम्बर के मध्य की अवधि में भी अपने स्थानांतरण के लिए कोशिश कर सकते हैं।

वॄषभ लग्न


Taurus6

आपके लग्न के लिए शनि दशम भाव के स्वामी होने के कारण आपके कार्यक्षेत्र के स्वामी है। वैसे भी शनि ग्रह को नौकरी का कारक ग्रह माना गया है। साल २०१७ से शनि आपके अष्टम भाव पर गोचर कर रहे हैं, इस स्थिति में आपका मन बार बार नौकरी में बदलाव करने का कर सकता है। अष्टम भाव पर दशमेश गोचर करें तो व्यक्ति को नौकरी, कार्यक्षेत्र और करियर में असुविधा महसूस होती है।

नौकरी में स्थानांतरण के लिए आप 05 फरवरी से 22 मार्च, 07 मई से 22 जून और 09 अगस्त से 25 सितम्बर की अवधियों का प्रयोग नौकरी में बदलाव के कार्यों के लिए कर सकते हैं।

मिथुन लग्न


Gemini6

आपके लग्न के लिए गुरु दशम भाव अर्थात करियर भाव के स्वामी होते है। साल 2018 के उत्तरार्द्ध से गुरु छ्ठे भाव पर गोचर कर रहे हैं और इस साल गुरु मार्च-अप्रैल माह में बहुत जल्द राशि परिवर्तन कर सप्तम भाव पर विचरण करने वाले हैं। अत: अप्रैल माह तक का समय आपके करियर के लिए उतार-चढ़ाव युक्त रहेगा। अत्यधिक सावधानी रखनी होगी। वर्ष मध्य में कई माह गुरु वक्री अवस्था में रहेंगे इस स्थिति में आप नौकरी में असन्तुष्टी, असंतोष और असुविधा महसूस करेंगे।

नौकरी में बदलाव के लिए आप 05 फरवरी से 22 मार्च, 22 जून से 09 अगस्त और 25 सितम्बर से 10 नवम्बर तक के मध्य का समय का प्रयोग आप जाब चेंज के लिए कर सकते हैं।

कर्क लग्न


Cancer6

आपकी कुंड्ली के लिए मंगल सबसे शुभ और सारे जीवन को दिशा देने वाले ग्रह है। योगकारक ग्रह मंगल का गोचर बारहवें, तीसरे, पांचवें और आठ्वें भाव पर गोचर करना आपको नौकरी में मनचाहे बदलाव के अवसर देगा। इस समयावधि में आप नौकरी में बदलाव कर अपनी इच्छा पूरी कर सकते हैं। आपके लिए उत्तम रहेगा कि आप जल्दी जल्दी नौकरी में बदलाव का ना सोचें।

साल 2019 में नौकरी में बदलाव करने के लिए आप 22 मार्च से 07 मई, 09 अगस्त से 25 सितम्बर और 10 नवम्बर से 25 सितम्बर तक का समय आपके लिए इस कार्य के लिए अनुकूल सिद्ध होगा। उपरोक्त कालावधि में आप नौकरी में स्थानांतरण के लिए प्रयास कर सकते हैं।

सिंह लग्न


Leo6

आपके कर्म भाव का स्वामित्व शुक्र ग्रह के पास है। इस साल 2019 में जब शुक्र केंद्र और त्रिकोण भाव के अतिरिक्त अन्य भावों पर से गोचर करेंगे, उस समयावधि का प्रयोग आप नौकरी में बदलाव के लिए कर सकते हैं। हमारी सलाह है कि आप इस समय में प्रयास कर सहजता से नौकरी में बदलाव कर सकते हैं। इस साल में आप 22 मार्च से 16 अप्रैल, 29 जून से 23 जुलाई के मध्य और 10 सितम्बर से 04 अक्तूबर तक का समय आप जाब बदलने के लिए करें, इस समय में नौकरी बदलना आसान होगा।


Read: Career Horoscope 2019

कन्या लग्न


Virgo6

करियर, कार्यक्षेत्र और नौकरी के लिए दशम भाव का विचार किया जाता है। आपके कर्म भाव के स्वामी बुध ग्रह है। बुध लगभग प्रत्येक माह राशि परिवर्तित करते हैं। नौकरी में स्थानांतरण के लिए बुध ग्रह के गोचर का विश्लेषण करना होगा। कार्यक्षेत्र की शुभता अशुभता की जानकारी के लिए बुध किस समय में किस राशि और आपकी कुंडली के किस भाव पर गोचर करेगा उस्के अनुसार नौकरी में बदलाव करना होगा। साल 2019 में 12 अप्रैल से 03 मई, 03 अगस्त से 26 अगस्त, 29 सितम्बर से 23 अक्तूबर के मध्य की अवधि नौकरी बदलने के लिए उपयुक्त रहेगी।

तुला लग्न


Libra6

दशम भाव का स्वामी चंद्र होने के कारण आप के मन में नौकरी, कार्यक्षेत्र में बदलाव के विचार सामान्य से अधिक आते हैं। चंद्र बहुत तीव्रगति से गोचर करते हैं, इस स्थिति में नौकरी में स्थानांतरण के लिए मंगल के गोचर का विचार करना होगा, क्योंकि मंगल पुरुषार्थ और पहल के कारक ग्रह हैं अत: मंगल का गोचर यह बताने में सक्षम है कि आप को नौकरी के लिए कब प्रयास करने चाहिए। 09 अगस्त से 25 सितम्बर और 05 फरवरी से 22 मार्च में आप कम प्रयास से भी नौकरी बदल सकते हैं।

वृश्चिक लग्न


Scorpio6

आपके लग्न के लिए सूर्य ग्रह कार्यक्षेत्र भाव के स्वामी है। इस वर्ष में यदि आपका नौकरी बदलने का विचार करता है तो 13 फरवरी से 15 मार्च, 15 मई से 15 जून और 17 सितम्बर से 18 अक्तूबर के समय को आप नौकरी में बदलाव के लिए प्रयोग कर सकते है। वर्षावधि में सूर्य के गोचर की यह अवधि आपके लिए स्थानांतरण और बदलाव के कार्यों के लिए अनुकूल सिद्ध होगी।

धनु लग्न


Sagittarius6

करियर हो या कार्यक्षेत्र हों आपके लग्न के लिए बुध कर्मक्षेत्र के स्वामी ग्रह है। बुध का राशि परिवर्तन करना आपके कार्यक्षेत्र की घटनाओं को प्रभावित करने का कार्य करेगा। अत: साल 2019 में आप किस समय नौकरी में स्थानांतरण सहजता से कर सकते हैं। इसके लिए आप साल के 12 अप्रैल से 03 मई, 02 जून से 21 जून और 29 सितम्बर से 23 अक्तूबर तक के समय में आप दूसरी नौकरी की तलाश का कार्य कर सकते हैं। अथवा नौकरी में स्थानांतरण की योजनाओं को आगे बढ़ा सकते है।

मकर लग्न


Capricorn6

मकर लग्न का स्वामित्व शनि ग्रह के पास है। आपके दशम भाव अर्थात कर्म भाव के स्वामी शुक्र है। गोचर में शुक्र ग्रह की स्थिति आपके कार्यक्षेत्र की गतिविधियों को नियंत्रित करेगी। इस साल स्थान परिवर्तन, स्थानांतरण और नौकरी में बदलाव का सोचते हैं तो आप 22 मार्च से 16 अप्रैल, 10 मई से 04 जून और 23 जुलाई से 16 अगस्त के मध्य की अवधि को इस कार्य के लिए प्रयोग कर सकते हैं।

कुम्भ लग्न


Aquarius6

मंगल आपके कर्म भाव का सूचक है। मंगल की स्थिति के अनुसार आपके नौकरी में स्थानांतरण का विचार कर सकते है। 22 मार्च से 07 मई, 09 अगस्त से 25 सितम्बर के समय में आप का नौकरी में बदलाव का प्रयास करना सही रहेगा। इस समय में आप स्थान परिवर्तन, स्थानांतरण और चेंज सहजता से कर सकते है।

मीन लग्न


Pisces6

मीन लग्न के लिए दशम भाव के स्वामी गुरु ग्रह होते हैं। गुरु ग्रह एक वर्ष में सामान्यत: एक बार ही राशि बदलते है। वर्तमान में गुरु आपके भाग्य पर हैं और 29 मार्च को धनु राशि में गोचर करने लगेंगे। इसलिए आप नौकरी में बदलाव के लिए 29 मार्च से पूर्व की समयावधि का प्रयोग कर सकते हैं। स्थानांतरण और नौकरी में बदलाव की लिए अन्य उपयुक्त अवधियों के लिए हम मंगल गोचर पर विचार करें। 05 फरवरी से 22 मार्च की अवधि में जब मंगल वॄषभ राशि पर गोचर करेंगे उस समय और 07 मई से 22 जून के मध्य समय में आप आसानी से नौकरी बदलने का कार्य कर सकते हैं।


Read Other Articles:


Previous
Thinking about investing money without looking at your Kundali?

Next
What to do when you fall out of love?