कोई भी परेशानी हो, बस यह पत्थर घर ले आएं और देखे चमत्कार!

By: Future Point | 17-Jun-2022
Views : 3466
कोई भी परेशानी हो, बस यह पत्थर घर ले आएं और देखे चमत्कार!

परेशानियां किसके जीवन में नहीं हैं ? इस संसार में हर कोई किसी न किसी बात को लेकर परेशान है।  किसी को शादी की चिंता, तो किसी को व्यापार की, किसी को नौकरी में प्रमोशन का इंतज़ार है तो किसी को नया घर लेने का।  कोई अपने स्वास्थ्य को लेकर सोच में है तो कोई अपनी पढ़ाई को लेकर, आदि-आदि। पर क्या आप जानते है मात्र एक पत्थर के रखने मात्र से आपके जीवन की अनेकों समस्याओं से पालक झपकते ही छुटकारा पाया जा सकता है। जी हाँ, हम बात कर रहे हैं गोमती पत्थर की। यह एक आइए चमत्कारी पत्थर है जिसे अपन पास रखने से जीवन में धन, समृद्धि व उत्तम स्वास्थय प्राप्त होता है। आइयें इस चमत्कारिक पत्थर की प्रयोग विधि के बारे में विस्तार से जानें:

क्या होता है गोमती चक्र?

गोमती पत्थर सीप के जैसा दिखने वाला पत्थर है जो नदी में मिलता है। इस पत्थर का उपयोग पूजा-पाठ, तांत्रिक साधना व अनेक प्रकार के  टोटको में किया जाता है। गोमती चक्र एक तरफ से समतल होता है और दूसरी तरफ से पत्थर की तरह दिखाई पड़ता है।

ऐसी मान्यता है की गोमती पत्थर के प्रयोग से सर्वाधिक लाभ मिलता है और हर समस्या का समाधान हो जाता है। गोमती चक्र का दूसरा नाम सुदर्शन चक्र भी है। सुदर्शन चक्र का सीधा सम्बन्ध श्रीकृष्ण से है जिसका इस्तेमाल वे हर प्रकार का संकट व बुरी शक्तियों को नष्ट करने में करते थे। इसी से हमें गोमती पत्थर की मारक क्षमता का पता चलता है। 

गोमती चक्र को घर में रखने मात्र से जातक को अनेक फायदे देखने को मिलेंगे। शास्त्रों के अनुसार गोमती पत्थर कुंडली के दोषों से भी मुक्ति दिलवाता है। रूपये-पैसे की तंगी तो बहुत ही आसानी से पीछा छोड़ देती हैं।

सबसे महत्वपूर्ण बात यह है कि जिस घर में यह पत्थर होता है उस घर में वास्तु दोष नहीं लगता। गोमती चक्र को इस्तेमाल करने से पहले उनकी पूजा कर उन्हें सिद्ध किया जाता है। आप यह कार्य स्वयं अपने घर में आसानी से कर सकते हैं। आइयें जानें इसकी सिद्धि विधि।

Buy Gomti Chakra Small Online at Best Price

गोमती चक्र को सिद्ध करने की विधि | Method to prove Gomti Chakra

  • सबसे पहले भगवान् गणेश, लक्ष्मी जी और सरस्वती माता की पूजा करें।

  • उसके बाद गोमती चक्रों को पूजा के स्थान पर रखें।  

  • साथ ही गोमती चक्रों के ऊपर हल्दी से पीले किये चावल रखें।  

  • उसके पश्चात चक्र पर रोली से टीका लगाएं।  

  • फिर पीले या लाल पुष्प चढ़ाएं।

  • महालक्ष्मी मंत्र का जाप करें -'श्री महालक्षम्यै श्रीयें नमः'

सिद्धि के बाद गोमती चक्र की प्रयोग विधि | Method of using Gomti Chakra after Siddhi

गोमती चक्र का उपयोग आपकी मन की इच्छा पर निर्भर करता है की आप जीवन में क्या कामना करते हैं।  एक बार चक्रों को अभिमंत्रित करने के बाद आप तैयार हैं इनका जादुई प्रभाव अपने जीवन में देखने के लिए। नीचे दिए गए सभी कारणों में से अपने कारण जानकार गोमती चक्र की सही उपयोग विधि जानें और सफलता पाएं।  अपनी मनोकामना के आधार पर आप इनमे से कोई भी तरीका अपना सकते हैं। हर इच्छा के लिए गोमती चक्र का अलग प्रयोग है।   

सफलता के लिए | For Success

गोमती चक्र का ज्योतिष शास्त्र में अत्यंत महत्व है और यह चक्र सफलता दिलवाने में पूर्ण रूप से फलदायी है। अगर कोई जातक मेहनत व संयम के साथ काम करने पर भी असफलता का सामना कर रहा है, तो उसे तीन अभिमंत्रित चक्र लेना चाहिए।  इन्हें आपस में बांध कर अपनी जेब में रख लेना चाहिए।  ऐसा करने से व्यक्ति के जीवन की सभी बाधाएं नष्ट होती हैं और जीवन में खूब सफलता मिलती है। आपके बॉस या अनुयायी आपकी बात मानते हैं और आप आसानी से अपने लक्ष्य की और बढ़ते चले जाते हैं। 

व्यापार- वृद्धि | Business Growth

अगर कोई व्यक्ति अपने व्यापार से परेशान है या उसके व्यापार को बुरी नजर लग गई है, तो ऐसे में व्यापारी को 21 अभिमंत्रित गोमती चक्र के साथ 3 नारियल लेकर पूजा स्थान पर रखने चाहिए और पूजा करने के बाद इन्हें नारियल के साथ एक पीले कपड़े में बाँध कर अपने कार्यस्थल के दरवाज़े पर लटका देना चाहिए। ऐसा करने से नजर दोष दूर होता है और व्यापार में बेतहाशा तरक्की होती है। शुभ मुहूर्त देखकर ही गोमती चक्र अपने कार्य स्थल पर लटकाये और इस पर लाल कामिया सिंदूर का तिलक भी करें। कुछ ही दिनों में आपको इसका प्रभाव लाभ के रूप में देखने को मिलेगा। यह उपयोग आपके लिए ग्राहकों को खींच लाने में आपकी मदद करता है।  आपका धंधा दिन दूनी रात चौगनी तरक्की करता है। यदि आपकी फैक्ट्री या कारखाना है तो भी यह उपाय अत्यंत फलदायी है।   

आपकी कुंडली में छिपे राज योग जानने के लिए क्लिक करें

घर में सुख-समृद्धि | Happiness at Home

अपने घर में शान्ति, सुख व समृद्धि की कामना के साथ आप गोमती चक्र का उपयोग कर सकते हैं। किसी भी माह के शुक्ल पक्ष में पड़ने वाले पहले  शुक्रवार को 11 सिद्ध गोमती चक्र लेकर किसी लाल रंग के रेशमी कपड़े में रखना चाहिए। इन चक्रों पर चंदन से तिलक करें और फिर पूजन करें। स्फटिक की माला से  श्री महालक्ष्म्यै श्रीयें नम:मंत्र की कम से कम 11 माला करें।  फिर इन्हें उसी लाल कपड़े में बांधकर अपनी तिजोरी या धन रखने की अलमारी में रखें। ऐसा करने से घर में समृद्धि बनी रहती है।

नौकरी में प्रमोशन | Job Promotion

अपने ऑफिस में पदोन्नति या प्रमोशन चाहते हैं तो तीन सिद्ध चक्र चांदी के तार में एक साथ बांधकर अपनी जेब में रखें। इसके शुभ प्रभाव से आपको अपने कार्यस्थल पर खूब सफलता प्राप्त होगी।  कुछ ही दिनों में आपको प्रमोशन भी मिलेगा।  

नजर दोष | Visual Impairment

गोमती चक्र ज्योतिष शास्त्र के बहुत से प्रयोगों में इस्तेमाल होता है।  यह कुंडली के अनेक दोषों व नज़र दोष को समाप्त करने में भी अत्यंत सहायक है। कुंडली में शनि व राहु के प्रभाव से नज़र दोष बनता है। यदि कोई जातक नजर दोष से पीड़ित है उसे ३ गोमती चक्र को अपने पास रखना चाहिए जिससे बुरी नज़र से बचाव होता है।

वास्तु दोष | Vastu Dosh

किसी भी प्रकार के वास्तु दोष से छुटकारा पाने के लिए, मकान या इमारत बनाते समय 11 गोमती चक्र दक्षिण पूर्व दिशा में इमारत की नींव में दबा दें।  ऐसा करने से हर प्रकार का वास्तु दोष दूर होता है और घर के लोगों के लिए समृद्धि आती है।   

फ्री कुंडली प्राप्त करने के लिए क्लिक करें

बीमारी | Disease

यदि आपके घर में बीमारी पीछा नहीं छोड़ रही है तो बीमार व्यक्ति के सिर से 21 सिद्ध गोमती चक्र घुमाकर उन्हें बीमार आदमी के पलंग से बांध देना चाहिए। ऐसा करने से सकारात्मक प्रभाव मिलते हैं और बीमार व्यक्ति जल्द ही स्वस्थ हो जाता है। इसके साथ-साथ साधारण रूप से घर के सभी लोगों के अच्छे स्वास्थ्य के लिए आप गोमती चक्र को साफ जल से धोकर एक लाल वस्त्र बिछा कर इस पर इन्हें स्थापित कर दें।। सिंदूर लगाकर  देसी घी का दीपक जलाएं और "ऊं आरोग्यानिकारी रोगानशेषानंम" मंत्र की 11 माला करें, परिवार में सभी का अच्छा स्वास्थ्य बन रहेगा। 

दांपत्य जीवन | Married Life

अगर आपका दांपत्य जीवन कलह पूर्ण है और आपसी मतभेद बढ़ता ही जा रहा है तो 11 सिद्ध गोमती चक्र को सफेद कपड़े में बांधकर घर की दक्षिण दिशा की और फेंक दें। इस ज्योतिषीय उपाय से दांपत्य जीवन में आ रही सभी प्रकार की परेशानियां दूर होती है और आपसी संबंधों में मधुरता आती हैं।

पारिवारिक-कलह | Family Feud  

अगर आप दिन-रात घर में कलेश के वातावरण में जी रहे हैं तो 3 गोमती चक्र लें। उन्हें एक डिब्बी में पहले सिंदूर रखकर उसके ऊपर रख दें और फिर उस डिब्बी को किसी अज्ञात स्थान पर रख दें। इस डब्बी के बारे में किसी भी परिवार के सदस्य को न बताएं। ऐसा करने से घर का कलह शांत होगा और आपकी सभी मनोकामनायें शीघ्र पूरी होगी।

एक अति महत्वपूर्ण सुझाव |  Important Suggestion

गोमती चक्र हर प्रकार की समस्या के लिए एक रामबाण है।  लेकिन यह बहुत आवश्यक है की आप इनमें पूर्ण श्रद्धा के साथ ही इन्हें उपयोग में लाएं।  श्रद्धा से किया गया उपाय पूर्ण फलदायी होता है। आपकी हर प्रकार की आर्थिक, शारीरिक, मानसिक, पारिवारिक, व्यापारिक या संतान से संबंधत सभी समस्याओं के निवारण के लिए गोमती चक्र आज ही घर लाएं।


Previous
Mars transit in Aries, June 27, 2022- What can Happen?

Next
Mercury transit in Gemini- Watch your words making fortunes for you!