टूटते घर को बचाने के उपाय – रिश्तों को बचाने में मिलेगी सफलता

By: Acharya Rekha Kalpdev | 11-Jan-2024
Views : 1754
टूटते घर को बचाने के उपाय – रिश्तों को बचाने में मिलेगी सफलता

परिवार को बांधकर रखने का किसका मन नहीं करता, भले ही आधुनिक काल ने संयुक्त परिवार कि जगह एकल परिवार ने ले ली है, फिर भी परिवार के सभी सदस्यों में स्नेह और सौहार्द बना रहे, ऐसी इच्छा हर घर के परिवार के माता -पिता, घर के मुखिया की होती है। आज के समय में परिवार को स्नेह सूत्र में बांधे रखना, कोई आसान काम नहीं है। समय कि कमी के चलते, आज एक ही घर के सदस्यों में बातचीत और भावनाओं का आदान प्रदान बहुत कम हो पाता है। सोशल मीडिया के समय में हर व्यक्ति स्मार्ट फोन पर फ्रेंड्स को इम्प्रेस कर रहा है, सिवाय अपनी फॅमिली के। वास्तविकता में देखे तो आज परिवार में सदस्य कोई आवश्यक काम पड़ने पर ही एक दूसरे से बात करते है। स्मार्ट फोन और सोशल मीडिया ने परिवार के रिश्तों के ताने बाने को कमजोर कर दिया है।

हर व्यक्ति को जीवन में कई रिश्ते मिलते है, भाई - बहन का रिश्ता, मां बेटे का रिश्ता, पति पत्नी का रिश्ता, मित्र का रिश्ता, भाई भाई का रिश्ता, सास बहु का रिश्ता बनता है, इसी तरह से अन्य अनेक रिश्ते जीवन में मिलते है।

रिश्तों को ठीक करने की कड़ी में सबसे पहले उस ग्रह की पहचान की जाए, जिसकी वजह से रिश्तों में दिक्कतें आ रही है, ग्रह की पहचान हो जाने के बाद ग्रह कौन से भावों से सम्बन्ध बनाकर उन्हें प्रभावित कर रहा है, यह जाने। यह जानने के बाद आप सम्बंधित ग्रह का उपाय कर, अपने रिश्तों को सुधार सकते है।

आपकी राशि के लिए कैसा रहेगा आने वाला साल? विद्वान ज्योतिषियों से जानें इसका जवाब

उदाहरण के लिए यदि आपके रिश्ते माता के साथ सही नहीं रहते है, तो आपकी कुंडली में चंद्र अपना शुभ फल नहीं दे दे पा रहा है। ऐसे में माता की सेवा करना, माता के चरण स्पर्श कर, आशीर्वाद लेना, चंद्र शुभता को बढ़ा सकता है। यदि किसी कारणवश माता नहीं है तो माता दुर्गा जी का आशीर्वाद नित्य लिया जा सकता है। इसी प्रकार ग्रहों में सूर्य को पिता का स्थान दिया गया है, पिता से रिश्ते सुधारने के लिए सूर्य को शुभ किया जाता है। सूर्य के उपाय करने से सूर्य की स्थिति में सुधार होगा और पिता के साथ आपके रिश्ते मधुर होंगे। पिता के साथ अपने रिश्तों को बेहतर करने के लिए पिता को आदर-सम्मान देने चाहिए। पिता का आशीर्वाद, और पिता का आशीर्वाद लेने से सूर्य को बल मिलता है। जिन लोगों के जीवन में पिता नहीं है, उन्हें, सूर्य को पिता का स्थान देना चाहिए। सुबह सूर्य को एक निश्चित समय पर प्रणाम कर अर्घ्य देने से सूर्य की शुभता में वृद्धि होती है और जातक को सूर्य से मिलने वाले फल शुभ रूप में प्राप्त होते है।
 
ऐसे ही भाईयों से रिश्ते मजबूत करने के लिए मंगल के उपाय करने लाभकारी रहते है। भाई को स्नेह और सहयोग देने से भाईयों से रिश्ते मधुर होते है। पारिवारिक रिश्तों में स्नेह और सम्मान देकर हम ग्रहों की शुभता को बढ़ा सकते है। कुछ रिश्ते संसार से भी मिलते है, संसार के रिश्तों को कैसे सुधारा जाये? रिश्तों को प्रगाढ़ बनाने के लिए निम्न उपाय किये जा सकते है-

वैवाहिक रिश्तों को मधुर बनाने के आसान उपाय

  1. अगर आपको लगता है की आपके रिश्ते कड़वी वाणी के कारण खराब हो रहे है तो आपको माह में एक बार बुधवार के दिन मौन व्रत रखना चाहिए। मौन व्रत से बुध की शुभता में सुधार किया जा सकता है। जो लोग वाणी दोष से रिश्ते खराब कर लेते है, उनके लिए यह उपाय बहुत कारगर साबित होता है।
  2. लाइफ पार्टनर के साथ रिश्ते तनावपूर्ण चल रहे हों, तो एक कपूर लेकर रात्रि में उसे अपने पार्टनर के तकिये के नीचे रखे, और अगली सुबह जला दें। इससे मैरिड लाइफ में स्नेह बढ़ता है।
  3. बिजनेस पार्टनर हो या लाइफ पार्टनर हो दोनों ही लोगों को दो मुखी रुद्राक्ष धारण करना चाहिए। यह पार्टनरशिप रिश्तों में मन मिलाने का कार्य करता है।
  4. घर के मंदिर में जीवन साथी के साथ बैठकर ही पूजा करने का नियम बनायें। जहाँ तक संभव हो साथ में ही पूजा करें। और नित्य करें। इस उपाय से भी आपसी रिश्तों में मधुरता आती है।
  5. पार्टनर के साथ जाकर किसी जरुरतमंद को कपड़ों का दान करें। अपने सामर्थ्य अनुसार समय समय पर ऐसा करते रहें। यह उपाय दोनों को करीब लाने में सहयोग करेगा।
  6. दोनों पार्टनर एक साथ पूजा करने के बाद दोनों ही अपने माथे पर हल्दी-चन्दन का तिलक करें।
  7. एक शीशी लेकर उसमें अपने पार्टनर का एक छोटा चित्र डालकर उसे शहद से भर दें। और इसे दक्षिण-पश्चिम दिशा में रख दें। यह लाइफ पार्टनर के साथ रिश्तों में एक नया उत्साह और स्नेह लाने का काम करेगा।
  8. घर की दीवारों पर उजले और हल्के रंगों का प्रयोग करें। गहरे, नीले और काले रंग के प्रयोग से हमेशा बचना चाहिए। इसके साथ ही घर में प्रकाश व्यवस्था ठीक से होनी चाहिए। कमरों को अंधकारमय नहीं रखना चाहिए। घर में सकारात्मक ऊर्जा के लिए यह आवश्यक है।
  9. पति पत्नी आपसी रिश्तों को मजबूत करने के लिए पति अपने हाथों से पत्नी की मांग सिन्दूर भरे, और पत्नी  पति को अपने हाथ से तिलक लगाए। ऐसा रोज करने से आपसी विवाद समाप्त होते है और स्नेह बढ़ता है।
  10. घर में शुभ कार्यों के समय में काले और गहरे रंग के वस्त्र पहनने से बचना चाहिए। मुख्य रूप से  लाल, पीले  और  गुलाबी रंग का प्रयोग करना चाहिए।
  11. जब बार बार बेवजह क्रोध और आवेश आने लगे तो व्यक्ति को आवेश पर नियंत्रण रखने के लिए प्रात: काल में मूली का जूस पीना चाहिए। इससे क्रोध में कमी होती है। और आवेश भी कम 12 जिन घर के आंगन में तुलसी जी होती है, और तुलसी जी के पौधे को प्रात: काल में जल देकर, सांयकाल में उसके निकट दीपक जलाया जाता है, उन घरों में दाम्पत्य जीवन सुखमय और स्नेहपूर्ण होता है।
  12. वैवाहिक जीवन में स्नेह बढ़ने के लिए सिन्दूर की खाली डब्बी में एक चुटकी सिन्दूर और पांच गोमती चक्र डालकर श्रृंगार करने के स्थान पर या मंदिर स्थान में रखें। इस उपाय से रिश्तों के मध्य आने वाली नेगेटिव एनर्जी.
  13. मैरिड लाइफ को सुखमय बनाने के लिए गेंदे के फूल पर कुमकुम लगाकर भगवान् के श्रीचरणों में रखें। यह उपाय आपसी अनबन को दूर करता है।
  14. शुक्रवार के दिन विष्णु जी और लक्ष्मी जी की पूजा एक साथ करें।

Also Read: Astrology Tips: सोये भाग्य को जगाने वाले उपाय


Previous
Astrology Tips: सोये भाग्य को जगाने वाले उपाय

Next
मकर संक्रांति 2024 के उपाय जन्म राशि अनुसार और पुण्यकाल मुहूर्त