कहीं आपका रहस्य इस महीने खुल तो नहीं जायेगा ? - शुक्र का वृश्चिक राशि में गोचर

By: Future Point | 05-Nov-2022
Views : 2043
कहीं आपका रहस्य इस महीने खुल तो नहीं जायेगा ? - शुक्र का वृश्चिक राशि में गोचर

जीवन में ऐश्वर्य और धन के ग्रह शुक्र, 11 नवंबर 2022 को अपना राशि परिवर्तन करने जा रहे हैं। शुक्र अब वृश्चिक राशि में गोचर करेंगें।  ग्रहों का गोचर हमारे जीवन में महत्वपूर्ण बदलाव लाता है।

अब शुक्र जब भचक्र की रहस्यमयी राशि, वृश्चिक राशि में गोचर करेंगें तो जीवन में कई बदलाव व परिणाम देखने को मिलेंगें। शुक्र का वृश्चिक राशि में गोचर आपके जीवन में नए रहस्य ले कर आ सकता है या हो सकता है आपके पुराने रहस्यों पर से इस समय पर्दा उठ जाये।

चाहे कुछ भी स्थिति हो पर कुछ न कुछ रहस्यमयी, अनबूझा व अचानक कोई विषय इस गोचर के दौरान आपको प्रभावित करेगा। इस समय आपके जीवन में अचानक और अप्रत्याशित परिणाम मिलने की पूरी संभावना है।

अक्सर लोग पूछते हैं कि क्या शुक्र के वृश्चिक राशि में गोचर का प्रभाव सभी पर एक सा पड़ेगा? वैसे तो सभी राशियों को कम या ज्यादा प्रभाव दिखाई देगा, लेकिन शुक्र की दशा या अंतर्दशा से गुज़र रहे जातको के लिए यह गोचर अत्यंत प्रभावी रहेगा। यदि आपका दशा स्वामी शुक्र के नक्षत्र में है या आप शुक्र लग्न के व्यक्ति हैं, तो भी आपको परिणाम अधिक स्पष्ट रूप से दिखाई देंगे।

आपकी कुंडली के अनुसार ग्रहों की दशा क्या कहती है, जानें फ्यूचर पॉइंट ज्योतिषाचार्यों से। अभी परामर्श करें।

शुक्र के वृश्चिक राशि में होने का क्या मतलब है?

ऐसा कहा जाता है कि कुंडली में शुक्र की स्थिति आपके झुकाव को बताती है। इसका अर्थ है कि जन्म कुंडली में शुक्र का किसी विशेष घर में होना जातक का उस घर के प्रति विशेष आकर्षण देता है। उदाहरण के लिए, पहले घर में शुक्र हो तो व्यक्ति को आत्म-केंद्रित बनता है। ऐसा व्यक्ति फैशनेबल व भोग-विलास की वस्तुओं में अधिक लगाव दिखाता है।  

अब, वृश्चिक राशि चक्र की आठवीं राशि है; यह राशि कालपुरुष की कुंडली के अष्टम भाव में आती है। शुक्र की यह स्थिति गूढ़ और गहरे विषयों में रुचि पैदा कर सकती है। ऐसे लोग जिनकी कुंडली में पहले से ही जो गुप्त संबंधों का योग है , कोई गुप्त सम्बन्ध स्थापित कर सकते हैं।

कुछ लोग गुप्त रूप से विवाह भी कर सकते हैं, और अन्य जीवन में विलासिता, वाहन और सुख-सुविधाओं पर खर्च कर सकते हैं। तो आइयें जानते हैं कि आपकी राशि के अनुसार शुक्र के वृश्चिक राशि में गोचर से आपको अच्छे या बुरे कैसे परिणाम मिलेंगे?

Read in English: Venus transit in Scorpio - 11 November 2022

शुक्र के वृश्चिक राशि में गोचर की तिथि और समय

शुक्र लगभग 23 दिनों तक एक राशि में रहता है। उसके बाद शुक्र गोचर में दूसरी राशि में चला जाता है। शुक्र 18अक्टूबर 2022, मंगलवार से तुला राशि में है। अब शुक्र 11 नवंबर 2022 को शाम 7:52 बजे वृश्चिक राशि में गोचर करेगा।

मेष राशि

मेष राशि के जातकों के लिए शुक्र आपके आठवें भाव में गोचर करेगा। दूसरे और सप्तम भाव का स्वामी अष्टम भाव में गोचर कर रहा है। आपके वैवाहिक जीवन के लिए स्थिति अच्छी नहीं है। पार्टनर द्वारा गुप्त मामलों और धोखा मिलने की संभावना है। पैतृक संपत्ति पाने का योग है और अचानक लाभ की भी संभावना है। लेकिन साथ ही स्वास्थ्य का भी ध्यान रखना चाहिए। पार्टनर के साथ मिलकर कहीं निवेश करने के लिए यह अवधि अच्छी है। जिन छात्रों की ज्योतिष में रूचि है, उन्हें इस समय विषय का अच्छा ज्ञान प्राप्त हो सकता है। अपने खान-पान का ध्यान रखें और अपनी आंखों और अपने साथी के स्वास्थ्य का ख्याल रखें।

वृषभ राशि

वृषभ राशि के जातकों के लिए शुक्र लग्न और छठे भाव का स्वामी है। शुक्र विवाह और जीवनसाथी के सप्तम भाव में गोचर के समय रहेगा। जातकों के वैवाहिक सुख के लिए स्थिति अच्छी है। आप मानसिक शांति का अनुभव करेंगे और अपने साथी के साथ जीवन का आनंद लेंगे। आप में से कुछ जातक मनचाहे साथी से शादी भी कर सकते हैं। बिज़नेस व करियर के लिए भी समय अच्छा है। आपकी नौकरी और करियर के माध्यम से पर्याप्त धन कमाने के अवसर प्राप्त होंगे। साझेदारी के कारोबार वालों के लिए भी लाभकारी समय रहेगा। यह आपके व्यक्तित्व और रूप-रंग पर खर्च करने का समय है।

मिथुन राशि

मिथुन राशि के जातकों के लिए शुक्र पंचम और बारहवें भाव का स्वामी है। शुक्र के वृश्चिक राशि में गोचर के दौरान यह राशि के छठे भाव में रहेगा। यदि आप कुछ ऋण की तलाश में हैं, तो उसे प्राप्त करने का समय आ गया है। हालाँकि, यह स्थान आपके आपसी प्रेम-संबंधों और बच्चों के लिए अच्छा नहीं है। उनके साथ वाद-विवाद और गलतफहमी से बचें। आपके बच्चों या जीवन साथी में रोग होने की संभावना है। यह समय आपके स्वास्थ्य की अच्छी देखभाल करने को दर्शाता है। विवाहित जोड़ों को एक दूसरे के साथ वाद-विवाद और गलतफहमी से बचना चाहिए। कुछ कारणों से विशेष रूप से यात्रा पर आपको अत्यधिक खर्च करना पड़ सकता है।

आर्थिक भविष्यफल रिपोर्ट से पाएं धन संबंधी हर समस्या का ज्योतिषीय समाधान।

कैंसर राशि

कर्क राशि के जातकों के लिए शुक्र का वृश्चिक राशि में गोचर पंचम भाव में होगा। कर्क राशि के जातकों के लिए शुक्र एकादश और चतुर्थ भाव का स्वामी है। मनोकामना पूर्ति और नए प्रेम संबंध बनाने के लिए समय अच्छा है। छात्र शिक्षा के साथ-साथ कला में भी अच्छा प्रदर्शन करेंगे। रचनात्मक या डिजाइन क्षेत्र के लोग सफल होंगे। इस महीने में आपकी किसी खास से मुलाकात हो सकती है। वृश्चिक राशि में शुक्र, गुप्त और छिपने की प्रवृत्ति पैदा कर सकता है, जिससे आपको बचने का लक्ष्य रखना चाहिए अन्यथा संबंधों में समस्याएं हो सकती हैं।

लियो राशि

सिंह राशि के जातकों को चतुर्थ भाव के परिणाम का अनुभव होगा, जहां शुक्र 11 नवंबर 2022 से वृश्चिक राशि में रहेगा। शुक्र को चौथे घर में द्रिकबल मिलता है और अच्छे परिणाम लाता है। सिंह राशि के जातकों को गोचर से अच्छा लाभ मिलेगा। आप कोई घर या वाहन खरीद सकते हैं या उसके नवीनीकरण पर खर्च कर सकते हैं। यह गोचर आपको अपने घर के आराम को बढ़ाने पर खर्च करेगा। पारिवारिक संबंधों में सामंजस्य रहेगा, लेकिन साथ ही परिवार का कोई सदस्य आपसे कुछ छुपा सकता है। आप अपना अधिकांश समय घर पर बिता रहे होंगे और घर से काम भी कर सकते हैं। मित्रों और भाई-बहनों का सहयोग मिलेगा। करियर और व्यवसाय में लाभ कमाने के लिए समय अवधि उत्कृष्ट है। गोचर जातकों के लिए अत्यंत अनुकूल है। वार्षिक राशिफल 2023 के माध्यम से जानिए सिर्फ महीने का ही नहीं बल्कि साल का शुभ मुहूर्त।

कन्या राशि

कन्या राशि के जातकों के लिए शुक्र का वृश्चिक राशि में गोचर तीसरे भाव में रहेगा। यह स्थिति छोटी दूरी की यात्रा पर जाने को दर्शाती है।  कई लोग धार्मिक उद्देश्यों के लिए भी यात्रा कर सकते हैं। यात्रा, प्रकाशन, लेखन और ऑनलाइन व्यापार से जुड़े लोग इस समय अवधि के दौरान काफी अच्छा लाभ कमा सकते हैं। आपको, अपने भाई-बहनों का प्यार और सहयोग मिलेगा। आप अपने पिता से कुछ छुपा सकते हैं या गुप्त रूप से कुछ कार्य शुरू कर सकते हैं।

बृहत् कुंडली: जानें ग्रहों का आपके जीवन पर प्रभाव और उपाय

तुला राशि

तुला राशि के जातकों के लिए शुक्र वृश्चिक राशि में उनके दूसरे भाव में रहेगा। शुक्र लग्नेश है और कुंडली के दूसरे घर में इसका स्थान जातकों के लिए धन-योग बनाता है। आपके परिवार के माध्यम से आपको धन लाभ होने की संभावना है। आपका बैंक बैलेंस बढ़ेगा। परिवार के साथ अच्छा समय बिताने का समय है। इस दौरान आप स्वादिष्ट और लग्जरी खाने का लुत्फ उठाएंगे। हालांकि, स्वास्थ्य का ध्यान रखना और भी महत्वपूर्ण है; वित्तीय और व्यावसायिक लाभ के लिए गोचर बहुत अच्छा है।

वृश्चिक राशि

वृश्चिक राशि के जातकों के लिए शुक्र का वृश्चिक राशि में गोचर, लग्न में होगा। यह एक विशेष स्थिति है और जातक को महत्वपूर्ण रूप से प्रभावित करेगी। लग्न में सप्तम और द्वादश भाव का स्वामी विराजमान है। दाम्पत्य सुख की प्राप्ति के लिए स्थिति अच्छी है, लेकिन ख़र्चे अधिक होंगे। आप अपने व्यक्तित्व को सुधारने के लिए कपड़ों और साजो-सामान पर खर्च कर सकते हैं। यह आपके व्यक्तित्व के लिए परिवर्तनकारी समय साबित होगा। बहुराष्ट्रीय कंपनियों, विदेशी या निर्यात-आयात कारोबार से जुड़े लोगों को काफी लाभ होगा।

धनु राशि

धनु राशि के जातकों के लिए शुक्र का गोचर राशि के बारहवें भाव में होगा। बारहवें भाव में शुक्र शुभ फल देता है, जहां जातक को सुख और यात्रा की प्राप्ति होती है। हालाँकि, वृश्चिक राशि में रहने के दौरान शुक्र आपको बेवजह लेकिन गुप्त रूप से खर्च करवा सकता है। गोचर आपको मौज मस्ती के लिए विदेश यात्रा करवा सकता है। विदेश व्यापार से जुड़े या किसी बहुराष्ट्रीय कंपनी में काम करने वालों को अच्छा लाभ होगा। आपको सलाह दी जाती है कि वृश्चिक राशि में शुक्र गोचर के दौरान उधार लेने या ऋण लेने से दूर रहें।

मकर राशि

मकर राशि के लिए शुक्र योगकारक ग्रह है और हमेशा शुभ फल देता है। इनके लिए शुक्र का वृश्चिक राशि में गोचर राशि के एकादश भाव में होगा। गुप्त रूप से धन लाभ करने के लिए यह अनुकूल स्थिति है। आप इस दौरान गुप्त प्रेम संबंध भी स्थापित कर सकते हैं। करियर और व्यवसाय के लिए समय बहुत अच्छा है। मकर राशि के जातकों को कार्यस्थल पर उनकी कड़ी मेहनत और कौशल के लिए प्रशंसा मिल सकती है। जीवन के सभी पहलुओं के लिए यह समय अत्यधिक भाग्यशाली साबित होगा।

कुंभ राशि

कुंभ राशि के जातकों के लिए शुक्र का गोचर राशि के दशम भाव में होगा। कुंभ राशि के जातकों के लिए शुक्र एक योगकारक ग्रह है और उनके लिए उत्तम फल प्रदान करता है। कर्म और करियर के दशम भाव में शुक्र, कार्यस्थल पर आरामदायक स्थिति पैदा करेगा। कार्यक्षेत्र में आपको अपने वरिष्ठों और बॉस का सहयोग मिलेगा। यह समय घर की सुख-सुविधाओं को प्राप्त करने का भी है। गुप्त और शोध क्षेत्र में काम करने वालों को भरपूर लाभ होगा। इस गोचर के दौरान आपको पदोन्नति और वेतन वृद्धि मिल सकती है। कुल मिलाकर, यह घर, वाहन और विलासिता का आनंद लेने का समय है।

यह भी पढ़ें: क्या कहती है आपकी नवमांश कुंडली, जानें विवाह और करियर के बारे में

मीन राशि

मीन राशि के जातकों के लिए शुक्र का वृश्चिक राशि में गोचर नवम भाव में होगा। इनके लिए शुक्र तीसरे और आठवें भाव का स्वामी है। नवम भाव में अष्टमेश की स्थिति, धार्मिक विचारों और अन्य सदगुणों में कमी दे सकती है। हालांकि भाग्य आपका साथ देगा। उच्च शिक्षा के लिए उत्कृष्ट समय है, और कई लोग अध्ययन करने के लिए विदेश यात्रा कर सकते हैं। गुप्त और अन्य गहरे विषयों को सीखने के लिए आपमें जिज्ञासा हो सकती है। डिजाइनिंग, लेखन, कविता, यात्रा और एकाउंट्स के क्षेत्र में लगे जातकों के समय बेहतरीन है। सलाहकार के रूप में काम करने वालों के लिए भी यह अच्छा समय रहेगा।


Previous
Venus Transit In Scorpio - It's Time To Make Secret Gains, Love, And Money

Next
बिजनेस में इन राशियों के लोगों के कदम चूमती है सक्‍सेस, जिसमें भी हाथ डालते हैं, बन जाता है सोना