पारद शिवलिंग का ज्योतिषी प्रयोग

By: Vinay Garg | 11-Nov-2017
Views : 12177
पारद शिवलिंग का ज्योतिषी प्रयोग

आजकल मान्यता है घर में शिवलिंग नहीं रखते . घर मै मार्वेल, पत्थर आदि के शिवलिंग नहीं रखते. हर घर मै पारद शिवलिंग जरूर होना चाहिए. पारद शिवलिंग घर की नकारात्मक उर्जा और वास्तुदोष को खत्म करता है .

  • जिनकी जन्मकुंडली मे चंद्रमा नीच का है, मन अशांत रहता है, मन मे नेगेटिव विचार ज्यादा आते है, उनको पारद शिवलिंग पर नियमित कच्चा दूध, सफ़ेद फुल चढ़ाना चाहिए.
  • पुरे परिवार की समृद्धि के लिए प्रत्येक साल इस पर दूध से रुद्राभिषेक करवाना चाहिए क्योकि शिव स्वयं भूत - प्रेत - तांत्रिक प्रयोगों के स्वामी है, अतः इसकी नियमित आराधना करने से भूत - प्रेत बाधा - नज़र - बाधा - आदि तुरंत दूर हो जाती है .
  • अगर कोई व्यक्ति लगातार बीमार रहता हो, दवाई का असर न होता हो, निम्न मंत्र का 108 वार पाठ-करके इस पर चढ़ाया हुआ गंगाजल एक चम्मच रोगी को पिला दे, रोगी ठीक होने लगेगा. " ॐ जूं सः "
  • इसके हजारो फायदे है . ये अवश्य ध्यान रखे पारद - शिवलिंग उच्च कोटि का ख़रीदे

    शुभ- मुहूर्त मे घर मे स्थापित करे , मन की शान्ति और परिवार की प्रसन्नता हेतु कच्चे दूध से, धन प्राप्ति हेतु शहद से, शारीरिक कष्टों से मुक्ति हेतु सरसों तेल से पारद शिवलिंग पर रुद्राभिषेक करवाए .


Previous
पितृदोष क्या है और इसका वास्तु से क्या संबंध है ?

Next
वर्तमान दुर्गासप्तशती की कुछ विकृतियाँ