Akshaya Tritiya 2024: विवाह में आ रही है बाधा - अक्षय तृतीया 2024 पर करें उपाय / टोटके

By: Acharya Rekha Kalpdev | 02-Apr-2024
Views : 138
Akshaya Tritiya 2024: विवाह में आ रही है बाधा - अक्षय तृतीया 2024 पर करें उपाय / टोटके

Akshaya Tritiya 2024: वैशाख माह के शुक्ल पक्ष की तृतीया तिथि अबूझ मुहूर्त की सूची में आती है। इस तिथि को अक्षय तृतीया के नाम से भी जाना जाता है। यह तिथि बहुत अधिक शुभ होने के कारण विशेष शुभ मानी गई है। इस दिन आप कोई भी शुभ काम शुरू कर सकते है। यदि आपको भी है, किसी शुभ मुहूर्त की तलाश तो आप अक्षय तृतीया मुहूर्त में अपना काम पूरा कर सकते है। अक्षय तृतीया मुहूर्त की यह विशेषता है कि इस दिन मुहूर्त का प्रयोग करते समय मुहूर्त के अन्य किसी नियम का ध्यान नहीं रखा जाता है। यह दिन परम सौभाग्यशाली है। एक तो अक्षय तृतीया विशेष शुभ मुहूर्त है, दूसरे इस दिन भगवान् परशुराम जी का जन्म होने के कारण इस दिन परशुराम जी की जयंती भी है। सनातन हिन्दू धर्म के दो बड़े पर्व अक्षय तृतीया पर होने के कारण इस दिन की शुभता दोगुनी हो जाती है। इस साल अक्षय तृतीया पर्व 10 मई 2024, शुक्रवार की रहेगी। अक्षय तृतीया पर्व धार्मिक, आध्यात्मिक, सामाजिक और ज्योतिषीय महत्व रखता है। विवाह (Shubh Vivah Muhurat 2024), गृह प्रवेश, दुकान या व्यवसायिक स्थल में प्रवेश अक्षय तृतीया सब कामों के लिए शुभ है। सोने चांदी की खरीदारी करने के अलावा अक्षय तृतीया पर और कौन से काम कर इस दिन का पूरा लाभ उठाया जा सकता है।

अक्षय तृतीया के दिन का महत्व | Importance of Akshaya Tritiya day

अक्षय तृतीया अपने आप में कई कथाएं और किवदंतियां समेटे हुए है। इस दिन परशुराम जी का जन्म हुआ यह तो सभी जानते है, परन्तु इसी दिन भगवान् श्री विष्णु जी ने नारायण अवतार भी लिया था, इसकी जानकारी पुराणों मने मिलती है। इसके अतिरिक्त इसी दिन से त्रेता युग का प्रारम्भ भी हुआ था, त्रेता युग में भगवान् श्री राम जी का आगमन इस धरा पर राम नवमी के दिन हुआ था। अक्षय तृतीया विशेष शुभ मुहूर्त होने के कारण इस तिथि पर जो भी कार्य किया जाता है, उसका अक्षय फल मिलने की मान्यता है। अक्षय तृतीया तिथि व्रत, उपवास, दान, धर्म और खरीदारी करने के लिए बहुत शुभ मानी जाती है। अक्षय तृतीया तिथि को अक्षय अर्थात जिसका क्षय न हो, ऐसी तिथि माना जाता है। अत: इस तिथि पर सभी को केवल शुभ और पुण्य कार्य करने का प्रयास करना चाहिए। जिससे दिन की शुभता का लाभ व्यक्ति को प्राप्त हो सके।

Akshaya Tritiya kab hai: इस बार अक्षय तृतीया तिथि पर एक साथ सूर्य, बुध और शुक्र की युति हो रही है। साथ में राहु और मंगल का अशुभ योग भी बन रहा है। राहु मंगल का योग गुरु जो धन के कारक ग्रह है कि मीन राशि में बन रहा है। वैभव धन और लक्ष्मी जी के लिए शुक्र ग्रह का विचार किया जाता है, इस दिन गोचर में शुक्र बुध और सूर्य के साथ मेष राशि में है। और अर्धपापकर्तरी योग में है। जिन पर शनि की तीसरी दृष्टि भी है। इसलिए ग्रह योग राष्ट्रीय धन सम्पदा के पक्ष से कुछ कष्टकारी बने हुए है।

Akshaya Tritiya Muhurat: अक्षय तृतीया शुभ मुहूर्त - 10 मई 2024, शुक्रवार लाभ चौघड़िया

  • अक्षय तृतीया 10 मई के दिन शुभ चौघड़िया (Akshaya Tritiya 2024 Date)
  • दिन में शुभ चौघड़िया - 12:00 से लेकर 01:30 तक का रहेगा।
  • रात्रि में शुभ चौघड़िया 12:00 से लेकर 01:30 तक रहेगा।
  • खरीदारी के लिए उपरोक्त समय का प्रयोग आप कर सकते है।

Akshaya Tritiya का दिन अत्यधिक शुभ दिन होने के कारण इस दिन किये गए उपाय भी अत्यधिक लाभकारी और तुरंत फल देने वाले कहे गए है। इस दिन निम्न उपाय कर लाभ प्राप्त किया जा सकता है -

अक्षय तृतीया के उपाय और टोटके | Akshaya Tritiya ke Upay aur Totke

धन वृद्धि और सुख समृद्धि प्राप्ति का उपाय

इस दिन शुभ मुहूर्त में रात्रि – 12:00 से लेकर 01:30 के मध्य साधक उत्तर दिशा की और मुख कर बैठे, वस्त्र पीले धारण करें, पूर्व में सिद्ध किये हुए यंत्र को स्थापित करें। लक्ष्मी यन्त्र पर सम्मुख धूप, द्वीप और फूल अर्पित करें। स्फटिक माला पर लक्ष्मी मंत्र- ऊँ श्रीं ह्रीं श्रीं कमले कमलालये प्रसीद प्रसीद श्रीं ह्रीं श्रीं ऊँ महालक्ष्मी नमः की एक माला जाप करें। यइस उपाय से धन समबन्धी समस्याओं का निवारण होगा।

ग्रह दोष दूर करने का उपाय | Grah Dosh Dur Karne Ka Upay

अक्षय तृतीया के दिन सुबह स्नान कर शुद्ध होकर, भगवान् सूर्य को ताम्बे के लोटे में जल, लाल फूल और रोली डालकर अर्घ्य दें। साथ में सूर्य के सामने बैठकर सूर्य मंत्र ॐ घृणि सूर्याय नम: का एक माला जाप करें। इस उपाय को सूर्योदय के समय करना अतिशुभ रहेगा।

धन आगमन में बाधाओं को दूर करने का उपाय

  • इस दिन घर के मंदिर में लक्ष्मी जी और महालक्ष्मी यन्त्र को 7 गोमती चक्र, 11 कोडियां, को लाल सिन्दूर से रंग कर
  • देवी को अर्पित करें। एक बड़ा शुद्ध घी का दीपक जलाये। हकीक की माला पर निम्न मन्त्र का जाप करें।
  • मन्त्र - ॐ ह्रीं ह्रीं श्री लक्ष्मी वासुदेवाय नम:
  • धन की कमी में आ रही बाधाओं को दूर करने का यह एक सरल उपाय है।

सुख के मार्ग की बाधाओं को हटाने का उपाय

घर के पूजा घर में लक्ष्मी जी और महालक्ष्मी यन्त्र को स्थापित कर, 7 घी के दीपक जलाये, उन्हें 7 गोमती चक्र अर्पित करें। और स्फटिक माला से निम्न मंत्र का जाप करें।

लक्ष्मी मंत्र - ऊँ श्रीं क्लीं महालक्ष्मी महालक्ष्मी एह्येहि सर्व सौभाग्यं देहि मे स्वाहा।। माता को दूध से बनी मिठाई का भोग लगाए। सुख समृद्धि का घर में वास होगा और धन वृद्धि के योग बनेंगे।

Vivah में आ रही बाधाओं को दूर करने का उपाय

अक्षय तृतीया अबूझ मुहूर्त होता है, इस दिन बहुत विवाह होते है। विवाह तय होने में किसी भी प्रकार की समस्याएं आ रही हो तो निम्न उपाय करें -

  • अक्षय तृतीया के दिन पीपल के पेड़ के नीचे खड़े होकर, एक जट्टा वाला नारियल हाथ में लेकर, अपने गोत्र का उच्चारण करें, उसके बाद पीपल के पेड़ की 7 परिक्रमा करते हुए, पीपल देव से विवाह तय होने की कामना करें।
  • परिक्रमा पूर्ण करने के बाद, नारियल को पीपल के पेड़ को अर्पित कर दें।
  • कुछ ही समय में विवाह तय होने में आ रही बाधाएं दूर होंगी।

Also Read: अनंग त्रयोदशी (Anang Trayodashi) 2024 - प्यार में सफलता का अकाट्य दिवस

अक्षय तृतीया के दिन क्या करें? | What to do on the day of Akshaya Tritiya?

  • अक्षय तृतीया के अवसर पर चांदी की पादुका खरीदकर कर घर लाएं। मंदिर में उन्हें रख कर उनकी नित्य पूजा करें। लक्ष्मी जी का स्थिर वास घर में सदैव बना रहेगा।
  • अक्षय तिथि के दिन लाल रंग का कपड़ा लेकर उसमें 11 कौड़ियां बांधकर पूजा स्थान में रखें।
  • अक्षय तृतीया के दिन घर के पूजा घर में केसर और हल्दी से लक्ष्मी जी को तिलक करें।
  • अक्षय तृतीया के दिन 8 साल से छोटी कन्याओं का अपमान न करें।
  • अक्षय तृतीया के दिन घर में साफ़ सफाई का खास ध्यान रखे।
  • मंदिर में भी साफ़ सफाई, शुद्धता का ख़ास ध्यान रखें। इस दिन देवी लक्ष्मी जी की पूजा प्रमुखता के साथ करें।
  • घर के मुख्य द्वारा और मुख्य द्वारा के बार के स्थान को स्वच्छ रखें।
  • अक्षय तृतीया पर सोना और चांदी खरीदना अतिशुभ माना जाता है, अपने बजट के हिसाब से हम इन धातुओं की वस्तुएं खरीद सकते है।
  • गृह प्रवेश के लिए दिन की शुभता बनी हुई है।
  • वैवाहिक जीवन शुरू करना अर्थात विवाह करने के लिए यह दिन बहुत शुभ रहता है।

अक्षय तृतीया के दिन क्या बिल्कुल न करें? What absolutely not to do on the day of Akshaya Tritiya?

  • अक्षय तृतीया के दिन बिना स्नान के तुलसी जी को स्पर्श न करें, न तोड़े।
  • स्नान आदि से शुद्ध होने के बाद ही पूजा घर में प्रवेश करें।
  • अक्षय तृतीया के दिन घर में कुछ न कुछ लेकर ही जाएँ, खाली हाथ घर नहीं जाना चाहिए।
  • व्रत समापन या उद्यापन करने के लिए अक्षय तृतीया का दिन शुभ नहीं माना जाता है। इसलिए इस दिन इन चीजों से बचना चाहिए।
  • अक्षय तृतीया का पर्व शुभ पर्व है, इस दिन क्रोध और विवाद करने से बचना चाहिए।
  • यूं तो प्रत्येक दिन घर की स्त्रियों का मान करना चाहिए। उनके साथ सम्मानजनक शब्दों का प्रयोग करना चाहिए, विशेष कर इस दिन,। घर के स्त्रियों के साथ सम्मान का व्यवहार करना चाहिए।

Previous
राबड़ी की राह पर सुनीता केजरीवाल - क्या होंगी दिल्ली की भावी मुख्यमंत्री?

Next
नवम नवरात्रि की देवी - देवी सिद्धिदात्री पूजन विधि, मन्त्र, प्रार्थना, भोग