कर्नाटक विधानसभा चुनाव में बीजेपी क्यों जीती

By: Future Point | 16-May-2018
Views : 12738
कर्नाटक विधानसभा चुनाव में बीजेपी क्यों जीती

कर्नाटक विधानसभा में सरकार कौन बनाएगा ? यह कल तक का सबसे बड़ा विवाद का विषय बना हुआ था, सभी यह जानने के लिए उत्सुक थे कि सरकार किस हाथ रहेगी। आमजन जहां खबरों की सुर्खियों के माध्यम से स्थिति के स्पष्ट होने की प्रतीक्षा कर रहा था, वही न्यूज चैनलों को अपनी न्यूज रैंटिंग बढ़ाने का एक नया अवसर हाथ लग गया है। जिसे देखो वह कर्नाटक चुनाव को लेकर अपने अपने तरीके से भविष्यवाणी कर रहा है। कर्नाटक में बीजेपी की जीत का सारा श्रेय भारत के प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी को जाता है। नरेंद्र मोदी जी की कुंडली का गहनता से अध्ययन करें तो हम पाते है कि इनकी कुंडली में कभी ना खत्म होने वाला राजयोग बना हुआ है। जिन भावों में यह योग बन रहा है, उन्हीं भावों से संबंधित ग्रहों की दशा इस समय प्रभावी है।

 

भारतीय जनता पार्टी कुंडली

 

BJP-Kundli

 

भारतीय जनता पार्टी की कुंडली मिथुन लग्न, वृश्चिक राशि की है। इस समय इनकी कुंडली में चंद्र महादशा में चंद्र की अंतर्दशा चल रही है। ध्यान देने योग्य बात यह है कि द्वितीयेश चंद्र की महादशा ९ मई से ही शुरु हुई है। महादशानाथ चंद्र स्वयं नीचस्थ है और रोग भाव में स्थित है। कुंडली में तीसरे भाव में मंगल, गुरु, शनि और राहु चार ग्रह एक साथ स्थित है। जिसमें मंगल, गुरु और राहु 10 अंशों से भी कम अंशों के अंतर पर स्थित है। इस ग्रह युद्ध में मंगल विजयी है। मंगल इस लग्न के लिए एकादशेश है, ग्रह युद्ध में विजयी है, परन्तु अशुभ ग्रहों के साथ युति में होने के कारण पीडित है। बीजेपी की स्थापना को लगभग 39 वर्ष पूरे हो चुके है। कुंडली में गुरु-राहु का चांडाल योग बन रहा है। बीजेपी पार्टी और मोदी जी दोनों की कुंडलियों में शनि साढ़ेसाती का अंतिम चरण चल रहा है। इसलिए स्थिति सुखद फलदायी साबित हो सकती है। शनि साढ़ेसाती सत्ता कार्यों के लिए सदैव शुभ फलदायी रहती है। आईये अब अमित शाह की कुंडली देखते है।

 

अमित शाह की कुंडली

 

Amit-Shah-Kundli

 

अमित जी के कुंडली कन्या लग्न और मेष राशि की है। इस समय राहु महादशा में केतु की अंतर्द्शा प्रभावी है। यह दशा 5 जून 2018 तक रहेगी। इसके पश्चात सूर्य की अंतर्दशा आरम्भ होगी, जो अप्रैल 2019 तक रहेगी। कुंडली में पंचम और छ्ठे भाव के स्वामी शनि भाग्येश शुक्र को देख रहे हैं, यह धन योग इन्हें जीवन में बहुत आगे लेकर गया, दशम में उच्चस्थ राहु इन्हें राजनैतिक गठजोड़ और सत्ता के गलियारे में ऊंचा कद दे रहा है। एकादश भाव में नीचस्थ मंगल की दशा ने इन्हें विवादों में खड़ा कर दिया। वर्तमान में दशा से देखें तो चतुर्थ भाव और दशम भाव दोनों सक्रिय हो रहे हैं। यह कर्नाटक चुनाव में सफलता के पक्ष से शुभ संकेत है।

नरेंद्र मोदी जी की कुंडली

 

Narendra-Modi-Kundli

 

वृश्चिक लग्न, वृश्चिक राशि की कुंड्ली नरेंद्र मोदी जी की है। वर्तमान में चंद्र में बुध की दशा चल रही है। बुध एकदशेश है और उच्चस्थ स्थिति में एकादश भाव में ही स्थित है। सूर्य और केतु के साथ स्थित है, तीनों ग्रह 10 अंशों से भी कम अंशों के अंतर में स्थित है। उन्नति और सफलता के भाव में बनने वाला यह योग करियर में सर्वोत्तम सफलता देता है। मोदी जी की जन्मराशि पर शनि साढ़ेसाती का अंतिम चरण चल रहा है, दशा भी अनुकुल फल देने वाले ग्रहों की है, अत: स्थिति मोदी के पक्ष में ही दिखाई दे रही है।


Previous
ASTROLOGY AND TAROT: Similarities and Differences

Next
Weekly Horoscope 27th May to 2nd June


Recent Post

Popular Post

free-horoscope

Categories

Archives




Submit