जानिए आपकी राशि के लिए बना है कौन-सा रुद्राक्ष

By: Future Point | 24-Oct-2018
Views : 11032
जानिए आपकी राशि के लिए बना है कौन-सा रुद्राक्ष

हिन्दू धर्म में रुद्राक्ष को बहुत ही पवित्र माना गया है। रुद्राक्ष दो शब्द रूद्र और अक्ष से मिलकर बना है ऐसी मान्यता है कि शिव के आंसुओं से ही इसके पेड़ कि उत्पत्ति हुई थी। कहा जाता है कि यदि रुद्राक्ष राशि के अनुसार धारण किया जाए तो यह जीवन में बहुत से परिवर्तन लाता है जिसकी हमने कल्पना भी नहीं की होगी।

ज्‍योतिषशास्‍त्र में रुद्राक्ष को बहुत ज्‍यादा पवित्र और शुभ माना गया है। मान्‍यता है कि रुद्राक्ष धरती पर भगवान शिव के अश्रु के स्‍वरूप में उपस्थित है और इसी वजह से रुद्राक्ष को अत्‍यंत पवित्र और शुभ माना गया है।

रुद्राक्ष के कई प्रकार और स्‍वरूप हैं जिन्‍हें आप अपने जीवन की समस्‍या के निवारण हेतु धारण कर सकते हैं। इसके अलावा अगर आप अपनी राशि अनुसार रुद्राक्ष को धारण करें तो इससे आपको ना केवल लाभ मिलता है बल्कि आपके जीवन के सारे संकट स्‍वयं भगवान शिव दूर करते हैं।

रुद्राक्ष को राशि, ग्रह और नक्षण के आधार पर धारण करने से उसके फलों में कई गुना वृद्धि हो जाती है। ग्रह दोषों और जीवन में आने वाली अनेक प्रकार की समस्‍याओं के निवारण हेतु रुद्राक्ष बहुत उपयोगी एवं महत्‍वपूर्ण माना जाता है। कुंडली के अनुरूप सही एवं दोषमुक्‍त रुद्राक्ष धारण किया जाए तो ये अमृत तुल्‍य असर देता है।

तो चलिए जानते हैं कि आपको अपनी राशि अनुसार कौन-सा रुद्राक्ष धारण करना चाहिए।

मेष राशि

मेष राशि वाले बहुत जिद्दी होते हैं और ये एक बार जो ठान लेते हैं उसे करके ही मानते हैं। मंगल की राशि होने के कारण इनका स्‍वभाव बहुत क्रोधी, साहसी और चंचल होता है। मेष राशि के जातकों को तीन मुखी रुद्राक्ष धारण करना चाहिए।

वृषभ राशि

वृषभ राशि जितनी अडियल शायद ही कोई और राशि होती होगी। इन्‍हें अपनी बात से डिगा पाना तो स्‍वयं भगवान के हाथ में भी नहीं है। वृषभ राशि के जातकों के लिए छह मुखी रुद्राक्ष धारण करना फायदेमंद रहता है। अगर आप अपने जीवन को सही दिशा में लेकर जाना चाहते हैं तो छह मुखी रुद्राक्ष धारण करें।

मिथुन रा‍शि

मिथुन राशि द्विस्‍वभाव राशि है और इस वजह से इनके स्‍वभाव में दो रूप देखे जाते हैं। इनके जीवन में ऐसे बहुत कम लोग होते हैं जिनसे ये खुलकर बात करते हैं वरना दूसरों के लिए तो ये शर्मीले ही माने जाते हैं। मिथुन राशि के जातकों को चार मुखी, पांच मुखी या तेरह मुखी रुद्राक्ष अभिमंत्रण के बाद धारण करना चाहिए।

कर्क राशि

कर्क राशि के लोगों को बेहतरीन प्रेमी कहा जाता है। कहते हैं कि प्‍यार करने में इनकी बराबरी कोई नहीं कर सकता है। अगर आप अपने जीवन में सही इंसान को पहचानने की खूबी को पाना चाहते हैं तो दो मुखी रुद्राक्ष धारण करें।

सिंह राशि

सिंह राशि के लोगों को बाहर मुखी रुद्राक्ष धारण करने से लाभ होगा। अगर सिंह राशि के जातकों को करियर या व्‍यापार में सफलता नहीं मिल पा रही है तो उन्‍हें तुरंत 12 मुखी रुद्राक्ष पहनना चाहिए।

कन्‍या राशि

कन्‍या राशि वाले बहुत चंचल होते हैं। ये अपने हर काम को पूरी शिद्दत से करते हैं। काम हो या रिश्‍ते हर काम में अपना सौ प्रतिशत देना इनकी आदत होती है। कन्‍या राशि के लोगों को गौरी शंकर रुद्राक्ष पहनने से बहुत लाभ मिलता है।

तुला राशि

तुला राशि के लोग अपने काम और निजी जीवन में संतुलन बनाकर चलते हैं। ये अपनी मीठी-मीठी बातों से दूसरों को प्रभावित करने में सफल हो पाते हैं। तुला राशि के लोगों को सात मुखी और गणेश मुखी रुद्राक्ष पहनना चाहिए।

वृश्चिक राशि

वृश्चिक राशि के लोगों की दिल की बात जानना शायद इस दुनिया का सबसे मुश्किल काम है। ये आपके दिल की बात तो खोद-खोद कर जान लेते हैं लेकिन अपने मन की बात को जाहिर तक नहीं होने देते हैं। वृश्चिक राशि के लोगों को तीन मुखी रुद्राक्ष धारण करने से जीवन में बहुत तरक्‍की मिलती है।

धनु राशि

धनु राशि के जातकों को पांच मुखी रुद्राक्ष धारण करने से अत्‍यंत लाभ मिलता है। आप उन लोगों में से होते हैं जिन्‍हें बहुत मेहनत के बाद पैसा या तरक्‍की मिलती है इसलिए अगर आप इस रुद्राक्ष को धारण करते हैं तो आपके मुश्किल रास्‍ते आसान हो जाएंगें।

मकर राशि

मकर राशि वाले अपने काम को पूजा मानते हैं। इनके लिए काम ही सबसे ज्‍यादा जरूरी होता है और अपने करियर एवं व्‍यापार के लिए ये रिश्‍तों को छोड़ भी सकते हैं। मकर राशि वालों को अपने काम और निजी जीवन में संतुलन बनाए रखने के लिए 4, 6 या 12 मुखी रुद्राक्ष धारण करना चाहिए।

कुंभ राशि

कुंभ राशि के लोगों को सात और चौदह मुखी का रुद्राक्ष पहनना चाहिए। इससे इनके जीवन के सभी कष्‍ट दूर हो जाते हैं।

मीन राशि

राशि चक्र की अंतिम राशि है मीन और इस राशि के लोगों को पांच मुखी रुद्राक्ष धारण करने से भाग्‍य का साथ मिलता है।

कोई भी रुद्राक्ष तभी लाभ देगा जब आप उसे अभिमंत्रित करके धारण करेंगें। अगर आप अभिमंत्रित रुद्राक्ष प्राप्‍त करना चाहते हैं तो आप इसे हमारी वेबसाइट Future Point से भी ऑर्डर कर सकते हैं।


Previous
Benefits of Astrology for Marriage, Career and Health.

Next
How Do Yantra Work and types of Yantra?