करियर में उपायों से भरे ऊंची उड़ान

By: Acharya Rekha Kalpdev | 28-Dec-2023
Views : 1244
करियर में उपायों से भरे ऊंची उड़ान

किसी दार्शनिक ने सच ही कहा है कि संघर्षों से न डरें, संघर्ष आपको निखारने का काम करते है. यह सही है कि संघर्ष व्यक्तित्व को तरासने का काम करते है, समस्या तो तब आती है जब इसके बाद भी व्यक्ति को सही सफलता नहीं मिल पाती है. सफलता का स्वाद सभी कि भाग्य में नहीं होता है, जो दुर्भाग्य से प्रयास के बाद भी औसत सफलता ही पा रहे है, उन्हें अपने करियर में अच्छी सफलता पाने के लिए ज्योतिषीय उपायों का सहारा लेना चाहिए. 

  • कुछ उपायों से आप अपने करियर लाइफ कि सबसे ऊंचीं उड़ान भर सकते है-
  • करियर में सफलता पाने के लिए इन उपायों को कर आप अपने जीवन में उन्नति कर सकते है-

करियर में उन्नति के लिए सूर्य उपासना को श्रेष्ठ बताया गया है. करियर में सूर्य उच्चाधिकारी, बॉस को रिप्रेजेंट करता है. आपके बॉस से आपके कैसे सम्बन्ध है यह आपकी कुंडली में सूर्य कि स्थिति से तय होता है. सूर्य कमजोर हो तो व्यक्ति को अपने ऑफिस में करियर में बॉस कि नाराजगी का सामना करना पड़ता है. इसके विपरीत सूर्य सुस्थित हो तो व्यक्ति को बॉस कि सराहना पाने के लिए बहुत अधिक मेहनत नहीं करनी पड़ती है.

Also Read: नौकरी की तलाश होगी पूरी - करें ये आसान से 5 उपाय

सूर्य उपासना में प्रात: सूर्य को अर्घ्य दें

नित्य सूर्य उपासना करने से सूर्य को बल प्राप्त होता है, उनका आशीर्वाद प्राप्त होता है. भगवान सूर्य ऊर्जा और आत्मविश्वास देने वाले ग्रह है. भगवान सूर्य को जल में लाल फूल, रोली, कुमकुम और अक्षत डालकर अर्घ्य देने से सूर्य कि शुभता प्राप्त होने लगती है. और व्यक्ति कि जल्द पदोन्नति के योग बनते है.

उदित होते सूर्य के सम्मुख आदित्य हृदय स्त्रोत का पाठ करें

उदित होते सूर्य के सामने आदित्य हृदय स्त्रोत का पाठ करने से उन्नति और सफलता के शुभ योग बनते है. सूर्य आदित्य ह्र्दय स्त्रोत का सूर्य के सम्मुख पाठ करने से अप्रत्यशित लाभों कि प्राप्ति होती है. सरकारी नौकरी कि इच्छा रखने वाले कैंडिडेट को भी यह पाठ अवश्य करना चाहिए. 

पिता का सम्मान करें

वैदिक ज्योतिष के अनुसार पिता का सम्मान करने से भाग्य उदित होता है, भाग्य बढ़ता है. घर से सुबह ऑफिस के लिए निकलते समय पिता के चरण स्पर्श कर, आशीर्वाद लेकर निकलना चाहिए. किसी वश यदि पिता का आशीर्वाद लेना संभव न हो तो पिता समान व्यक्ति को आदर देते हुए भी, चरण  स्पर्श किये जा सकते है.

सरकारी नियमों का पालन करें

सरकार से सम्बंधित नियमों का पालन भी सूर्य ग्रह के अधिकार क्षेत्र के अंतर्गत आता है. फिर वह नियम चाहे ट्रेफिक के हो, या टेक्स सम्बंधित हो. सरकारी करों का समय से भुगतान करें, और गैर कानूनी कार्यों में शामिल न हो. करों कि चोरी से व्यक्ति को बचना चाहिए. इस प्रकार आप सूर्य कि शुभता को बढ़ा सकते है.

अनुशासनशील रहें

जीवन में नैतिकता और अनुशासनशील रहने से सूर्य शुभ बना रहता है. सूर्य शुभ हो तो सूर्य के सभी फल शुभ रूप में प्राप्त होते है. अनुशासन और नैतिक जीवन शैली का पालन करने से करियर में सफलता के योगों में वृद्धि होती है. करियर क्षेत्र में मान - सम्मान और पद वृद्धि कि सम्भावनों को भी बल मिलता है.

गायत्री मन्त्र का जाप करें -

गायरी मंत्र का जाप ब्रह्म मुहूर्त समय में और गोधूलि बेला में करना अतिशुभ माना गया है. नियमित रूप से इसका पाठ करने से मनोबल को बल मिलता है, एकाग्रता बढ़ती है, जिसके परिणाम स्वरुप सफलता, समृद्धि और खुशहाली के मार्ग खुलते है. जीवन के हर क्षेत्र के लिए गायत्री मन्त्र जाप विशेष फल देने वाला कहा गया है.


Previous
जीवन को बदल देने वाले सरल टिप्स - करके देखें, बदलेगा जीवन

Next
Remedies from Lal Kitab that Solve All Problems Related to Marriage