करा सकते है बड़ी बचत - आसान से दिखने वाले ये उपाय

By: Acharya Rekha Kalpdev | 22-Feb-2024
Views : 617
करा सकते है बड़ी बचत - आसान से दिखने वाले ये उपाय

भागदौड़ भरी इस दुनिया में सब आगे से आगे बढ़ना चाहते है। एक दूसरे से आगे निकलने की चाहा ने सफलता का रास्ता कठिन कर दिया है। यहाँ हर इंसान भाग रहा है, यह सारी भाग दौड़ धन कमाने और धन बचाने को लेकर है। धन हम सभी की जरूरतों को पूरा करने का एकमात्र साधन हैं। जीवन की सारी सुख सुविद्याएँ धन के चारों और भागती है। जीवन में धन के महत्त्व को हर कोई स्वीकार करता है। सारी दुनिया पैसों के चारों और दौड़ती है।

एक समय कहावत थी की जल बिन सब सून, आज के समय में धन बिन सब सून कहावत सत्य सिद्ध होती है। धन कमाना और धन बचाना दो अलग अलग बातें हैं, धन तो हम सभी किसी न किसी प्रकार कमा लेते है, परन्तु धन बचाना सब के बस की बात नहीं होती हैं। धन बचाने में सभी कामयाब नहीं होते है। आय और लाभ में से पैसे कैसे बचाएं? इस समस्या का सामना हम सभी को करना पड़ता हैं। भविष्य के अनिश्चित होने के कारण सभी दो पैसे कल के लिए जोड़कर रखना चाहते है। कल क्या हो जाए? इसी चिंता में सब धन बचा कर रखना चाहते है।

बृहत् कुंडली में छिपा है, आपके जीवन का सारा राज, जानें ग्रहों की चाल का पूरा लेखा-जोखा

कुंडली में धन आगमन और सेविंग से जुड़े भाव

2,6, और 10 वां भाव अर्थ भाव के नाम से जाने जाते है। अर्थ भाव मतलब धन भाव, इन भावों के अलावा 11 वां भाव भी देखा जाता है। अपने प्रयास से कमाया हुआ धन 11वें भाव से देखते हैं, उसमें से जो धन बचता है, वह दूसरे भाव से देखा जाता है। दूसरा भाव कुटुंबजनों और करीबी लोगों का भाव है। दूसरा भाव घर के मंदिर का भी है। घर के मंदिर में साफ सफाई का ध्यान रखने से धन की बचत अच्छी होती है।

  • घर के मंदिर में सुबह शाम दीपक जलाना और आरती करना धन बचत को बढ़ाता है।
  • लक्ष्मी जी के सामने रोजाना कनकधारा स्तोत्र का पाठ करना धन आगमन और धन की बचत में सुधार करता है।
  • शुक्र ग्रह मन्त्र ॐ शुक्राय नमः का एक माला रोज जाप करें। अगर आप चाहते है कि आपकी बचत अच्छी हो तो आपको घर और बाहर हर जगह स्त्रियों का सम्मान करना चाहिए। स्त्रियों का मान-सम्मान करने से घर में लक्ष्मी जी बनी रहती है।
  • घर के अंदर और घर के आसपास साफ़ सफाई का ख़ास ध्यान रखना चाहिए। इससे धन आगमन में सुधार होता है और बचत भी बेहतर होती है।
  • दूसरे भाव का कारक ग्रह बृहस्पति ग्रह है। बृहस्पति ग्रह को शुभता देने के लिए घर और बाहर के बुजुर्गों का सम्मान करना चाहिए। इससे बृहस्पति ग्रह शुभ होते है, और उनकी शुभता से घर में धन आता भी है और बचता भी है।
  • लक्ष्मी जी के सामने देशी घी का दीपक जलाकर लक्ष्मी मंत्र ॐ महालक्ष्म्यै नमो नमः का जाप करें।
  • झाड़ू को घर के एक कोने में लिटा कर रखें, खड़ा करके कभी न रखें, और पैर से झाड़ू को स्पर्श न करें।
  • पूजा के आसान को पूजा करने के बाद व्यवस्थित करके रखना चाहिए। ऐसे ही फैला हुआ नहीं छोड़ना चाहिए।
  • किसी भी व्यक्ति से बिना मूल्य चुकाएँ कुछ न लें, अन्यथा कहीं न कहीं किसी न किसी रूप में देना पड़ जाएगा। किसी का धन उधार में न रखे, याद से भुगतान करते चले।
  • रोजाना माता गायत्री जी का मन्त्र जाप करने से भी धन आगमन और सेविंग अच्छी होती है।
  • धन बचाने के लिए शुक्रवार को 11 कन्याओं को खीर मिश्री का भोजन कराएं। भोजन के पश्चात उन्हें लाल रंग के वस्त्र भी दान करें। यह उपाय लगातार तीन शुक्रवार तक करना है।
  • शुक्रवार के दिन अपने निकट के लक्ष्मी मंदिर में जाकर धूप, दीप, और फूल से पूजा करें, मां से धन देने की विनती करें।
  • हनुमान जी सम्मुख प्रतिदिन 11 बार हनुमान चालीसा का पाठ करें, और सात्विक जीवन का पालन करें। ऐसा लगातार 40 दिन तक करें। आप देखेंगे की जल्द ही आपके जीवन में धन सम्बन्धी समस्याओं का हल निकलने लगा है और आप का धन बचने लगेगा।
  • पूर्णिमा तिथि के दिन पीपल के पेड़ को जल चढ़ाएं, दर्शन, पूजन करें और अपनी आर्थिक स्थिति को बेहतर करने की विनती करें। पीपल के पेड़ को जल चढ़ाएं। इस दिन माता लक्ष्मी जी का वास कुछ समय के लिए पीपल के पेड़ पर रहता है। पीपल के पेड़ के निकट बैठकर लक्ष्मी जी के मंत्र का जाप भी करें।
  • पूर्णिमा तिथि पर एक लाल रंग के वस्त्र पर 11 पूर्ण अक्षत लें, और उन्हें मंदिर में लक्ष्मी जी के श्रीचरणों में रखें, इसके बाद माता लक्ष्मी जी की श्रद्धा भाव से पूजा करें। पूजा के बाद इन अक्षत को अपने पर्स में रख लें। यह उपाय करने से कुछ ही समय में धन बचत होने लगाती है और आर्थिक स्थिति में सुधार होने लगता है। आपको ध्यान रखना है की पर्स में बिना काम की वस्तुएं न रखे। पर्स में रुपए और सिक्के व्यवस्थित रूप से रखे। रुपयों को तोड़ मोड़ कर न रखें। तह कर सही ढंग से रखें।
  • रात्रि में एक गिलास में दूध भरकर रखें। और अगले दिन सुबह प्रात: उठकर नित्य कार्यों से निवृत होकर, उस दूध को किसी बबूल के पेड़ की जड़ में डाल दें।
  • पान के पत्ते पर गुलाब की सात पत्तियां रखकर, देवी लक्ष्मीजी के श्रीचरणों में चढ़ा दें। लगातार यह उपाय प्रतिदिन करने से धन की बचत में लाभ मिलता है और धन सम्बन्धी परेशानियां दूर होती है।

Previous
How to Make Venus Strong for Marriage, Love, Wealth and Beauty

Next
सूर्य गोचर मीन राशि में 2024 - किस राशि का बढ़ेगा टैक्स, किसकी लगेगी लॉटरी