कर्ज की समस्या से हैं परेशान तो करें ये विशेष उपाय,

By: Future Point | 19-Mar-2020
Views : 4968
कर्ज की समस्या से हैं परेशान तो करें ये विशेष उपाय,

इस आधुनिक युग में सुख-सुविधाओं के आकर्षण के चलते, और कई बार इन्हें प्राप्त करने के लिए कई तरह के जतन किये जाते हैं। यह सभी सुविधाएं जुटाने के लिए काफी धन की आवश्यकता होती है। आय सामान्य रहने पर भी व्यक्ति कर्ज लेकर इन सुविधाओं को प्राप्त करना चाहता है, परंतु कई लोग इस कर्ज को चुका नहीं पाते और परेशानियों में और अधिक उलझ जाते हैं। कर्ज एक ऐसा दलदल है, जिसमें एक बार फंसने पर व्यक्ति उसमें धंसता ही चला जाता है| कर्ज लेने के बाद धीरे-धीरे व्यक्ति के ऊपर कर्ज लौटने के लिए दबाव बढ़ता जाता है और कुछ कमियों और किस्मत की वजह से वो हार जाता है ऐसे में कर्ज से मुक्ति पाना उसके लिए बहुत मुश्किल हो जाता है | कई बार मन में गलत विचार आते है और वो व्यक्ति एक गलत राह पर चल पढता है जिससे उसको कर्ज से मुक्ति तो नहीं मिलती उल्टा और कर्ज में डूबता चला जाता है| उस समय उसे समझाने वाला कोई नही होता| एक व्यक्ति के जीवन में कर्ज से बढ़कर कष्टप्रद कोई स्थिति नहीं होती, धर्मग्रंथों के अनुसार, जहां तक हो सके कर्ज से बचना चाहिए, व्यक्ति कर्ज तब लेता है जब वह बहुत ज्यादा परेशान होता है, और उसकी समस्या पैसे से ही पूरी हो सकती हो ऐसी स्थिति बन जाए।

कर्ज लेना गलत नही है क्यों की कभी समस्या ही इतनी बढ़ जाती है कि व्यक्ति को कर्ज लेना ही पड़ता है| कुछ ऐसी परिस्थितियां हो जाती है जैसे बिजनेस में कोई नुक्सान, घर की हालत ठीक नही होती, घर में कोई न कोई बीमारी, तंगी से परेशानी आदि, लेकिन ऐसा नहीं है, कि कर्ज से व्यक्ति हमेसा बर्बाद ही होता है, कुछ ऐसे भी उदाहरण देखे गए हैं, जिसमे लोगों ने कर्ज लिया, और उसी से काफी अच्छी तरक्की, और जीवन में सफलता प्राप्त की| लेकिन ये सभी कारण जन्मकुंडली की ग्रहस्थितियों पर निर्भर करते हैं| ज्योतिष शास्त्र के पास व्यक्ति की हर समस्या का समाधान है, यह शास्त्र हमारी हर कठिनाई, हर परेशानी, हर छोटी से बड़ी समस्या को जान कर हमें उसका हल दे सकता है, जन्मकुंडली के षष्ठ भाव, एकादश भाव और द्वादश भाव से कर्ज की स्थिति देखी जाती है, इन भावों के स्वामियों के कमजोर होने पर या इन भावों में मंगल ग्रह के ख़राब स्थिति में होने पर कर्ज की स्थिति बन जाती है, शास्त्रों में मंगलवार और बुधवार को कर्ज के लेन-देन के लिए निषेध किया है। मंगलवार को कर्ज लेने वाला जीवनभर कर्ज नहीं चुका पाता तथा उस व्यक्ति की संतान भी इस वजह परेशानियां उठाती हैं।

कर्ज मुक्ति के विशेष उपाय-

ज्योतिषीय दृष्टि से कर्ज चाहे किसी से व्यक्तिगत रूप से लिया गया हो या बैंक आदि से लोन के रूप में पर कर्ज की समस्या व्यक्ति की कुंडली में षष्ठ भाव और मंगल के पीड़ित होने पर ही अधिक परेशान करती है, जिन लोगों की कुंडली में षष्ठ भाव में पाप ग्रहयोग बने होते हैं या मंगल बहुत पीड़ित होता है, ऐसे लोग जीवन के अधिकांश समय कर्ज की समस्या से घिरे ही रहते हैं, तो ऐसे में इस कर्ज की समस्या से निकलने में कुछ ज्योतिषीय उपाय बहुत सहायक और लाभदायक होते हैं जिन्हें नियमित रूप से करने पर बहुत सकारात्मक परिणाम प्राप्त होते हैं।

  • यदि आप कर्ज के कारण ज्यादा परेशान हैं तो विश्व प्रसिद्ध उज्जैन में ऋणमुक्तेश्वर मंदिर में पीली चीजों का दान कर और पूजा करके आप ऋणों से मुक्ति पा सकते हैं,
  • ऋण से मुक्ति पाने के लिए एक नारियल पर चमेली का तेल मिले सिन्दूर से स्वस्तिक का चिह्न बनाएं, लड्डू अथवा गुड़-चने के साथ हनुमान जी के मंदिर में जाकर उनके चरणों में अर्पित करके ऋणमोचक मंगल स्तोत्र का पाठ करें, ऐसा करने से लाभ मिलेगा,
  • शनिवार के दिन सुबह स्नान आदि करने के बाद अपनी लंबाई के अनुसार काला धागा लें और उसे एक नारियल पर लपेट लें, उसका पूजन करें और उसको नदी के बहते हुए जल में प्रवाहित करें, साथ ही भगवान से ऋण मुक्ति के लिए प्रार्थना करें,
  • मंगल एवं बुध के बीज मन्त्रों का जाप करवाएं, मंगल एवं बुधवार को कर्ज नहीं लेना चाहिए, प्रतिदिन हनुमानाष्टक का पाठ सात बार करें, अगर प्रतिदिन करना संभव न हो तो मंगलवार को जरूर करें, और ऋण की किश्तों को मंगलवार के दिन ही अदा करें, ऐसा करने से कर्ज शीघ्र ही समाप्त हो जाता है,
  • शास्त्रों में एकादशी के दिन दान पुण्‍य का विशेष महत्‍व बताया गया है। इस दिन गेहूं, आटा, सिंदूर, लाल वस्‍त्र, आदि का दान करने से कर्ज से मुक्ति मिलती है। लेकिन यह दान किसी जरूरतमंद व्‍यक्ति को ही दिया जाना चाहिए।
  • 11 कौड़ियों को जल से साफ करके हल्दी कुमकुम से टीका करके उसे लाल कपड़े में बांधकर लक्ष्मी जी के सामने शुक्रवार को अर्पित करें और अगले दिन स्नान आदि करके कौड़ियों को उठाकर अपनी तिजोरी में रखें, इससे धन लाभ होने लगेगा और कर्ज से मुक्ति मिलेगी।
  • श्रीगणेश को प्रतिदिन दूर्वा अर्पित करें, व मोदक का भोग लगाएं। और श्रीगणेश अथर्वशीर्ष का पाठ प्रत्येक बुधवार करें।
  • बुधवार के दिन सवा पाव मूंग उबालकर घी-शक्कर मिलाकर गाय को खिलाने से शीघ्र कर्ज से मुक्ति मिलती है,
  • कर्ज मुक्ति के लिए प्रतिदिन ऋणमोचक मंगल स्तोत्र या गजेन्द्र-मोक्ष का पाठ करना चाहिए, यदि प्रतिदिन किसी कारण न कर सकें, तो प्रत्येक मंगलवार को अवश्य करना चाहिए,
  • कर्ज मुक्ति के लिए हनुमान मंदिर जाकर मंगलवार और शनिवार के दिन उन पर तेल और सिंदूर चढ़ाएं, और लड्डू का भोग लगाएं, इसके बाद हनुमान चालीसा और बजरंगबाण का पाठ करें,
  • बुधवार और रविवार को कभी किसी को उधार न दें। मंगलवार को हनुमान चालीसा का पाठ करके हनुमान मंदिर में नारियल रखना अच्छा माना जाता है।
  • सर्वप्रथम पांच लाल गुलाब के पूर्ण खिले हुए फूल लें। इसके पश्चात् डेढ़ मीटर सफेद कपड़ा लेकर अपने सामने बिछा लें। अब इन पांचों गुलाब के फुलों को उसमें रखकर 21 बार गायत्री मंत्र पढ़ते हुए उसे बांध दें। अब स्वयं जाकर इन्हें जल में प्रवाहित कर दें। इस उपाय से जल्द ही कर्ज से मुक्ति मिल जाती है।
  • सोमवार के दिन एक रूमाल, पांच गुलाब के फूल, एक चांदी का पत्ता, थोड़े से चावल तथा थोड़ा सा गुड़ लें। फिर किसी विष्णु लक्ष्मीजी के मंदिर में जाकर मूर्त्ति के सामने अर्पित करें|
  • दोनों मुट्ठियों में काली राई लें। चौराहे पर पूर्व दिशा की ओर मुंह रखें तथा दाहिने हाथ की राई को बाईं ओर तथा बाएं हाथ की राई को दाहिनी दिशा में फेंक दें। श्रद्धा द्वारा किया गया यह उपाय अवश्य कर्ज से मुक्ति दिलाता है। यह उपाय मंगलवार को करना चाहिए, और शनिश्‍चरी अमावस्या को भी कर सकते हैं।

उक्त सभी उपाय जानकारी हेतु हैं। इन सभी उपायों को विशेषज्ञ ज्योतिषी से पूछकर ही करें।
कर्ज समस्या समाधान के लिए आप फ्यूचर पॉइंट के माध्यम से अपनी कुंडली का विश्लेषण करवाएं, और अपनी परेशानियों का हल प्राप्त करें|


Previous
ज्योतिषीय विश्लेषण: कब मिलेगी कोरोना वायरस से मुक्ति?

Next
जॉव में प्रमोशन प्राप्ति के अचूक उपाय-