जरूर जानिए करियर में रुद्राक्ष पहनने के लाभ | Future Point

जरूर जानिए करियर में रुद्राक्ष पहनने के लाभ

By: Future Point | 07-Jun-2018
Views : 11524
जरूर जानिए करियर में रुद्राक्ष पहनने के लाभ

रुद्राक्ष को भगवान भोलेनाथ का आंसू कहा गया है। रुद्राक्ष अपना धार्मिक और पौराणिक महत्व रखते हैं। इसके साथ ही रुद्राक्षों हमारे दैनिक जीवन में भी विशेष महत्व रखते हैं। यही वजह जिसके कारण रुद्राक्ष हमारी आस्था, विश्वास और धर्म में खास स्थान रखते हैं। इसका उल्लेख कई पुराणॊं और यहां तक की गीता में भी मिलता हैं।

रुद्राक्ष का सीधा संबंध भगवान शिव से होने के कारण, भगवान शिव का आशीर्वाद स्वरुप माना जाता हैं। यहां तक की रुद्राक्ष का वर्णन शिवपुराण में भी मिलता हैं। भगवान शिव का आशीर्वाद पाने के लिए यदि रुद्राक्ष माला पर ऊं नम: शिवाय मंत्र का जाप नित्य करना चाहिए। इससे भगवान शिव शीघ्र प्रसन्न होते हैं, और अपने भक्त की कामना पूर्ण करते हैं।

रुद्राक्ष पहनने के लाभ

लिंग पुराण और स्कंद पुराण में एक स्थान पर कहा गया है कि रुद्राक्ष धारण कर धारक की आत्मशक्ति और कार्यक्षमता को बढ़ाती हैं। रुद्राक्ष धारण कर करियर के क्षेत्र में उन्नति और सफलता हासिल की जा सकती हैं। भगवान शिव सबका कल्याण करते हैं और रुद्राक्ष भी शिव स्वरुप हैं। रुद्राक्ष का उपयोग चिकित्सा क्षेत्र में तो सदैव से होता रहा हैं।

इसके अतिरिक्त किसी भी ग्रह की शुभता प्राप्ति के लिए भी रुद्राक्ष धारण करने की सलाह दी जाती हैं। आईये आज हम आपको इस आलेख के माध्यम से बताने जा रहें हैं कि रुद्राक्ष धारण कर आप किस प्रकार अपने करियर में उन्नति प्राप्त कर सकते हैं-

नौकरी में पदोन्नति प्राप्ति के लिए रुद्राक्ष

नौकरी में उच्चपद प्राप्ति की कामना सभी को रहती हैं। नौकरी पेशा व्यक्तियों को कोई न कोई परेशानी आती ही रहती हैं। इसमें भी सबसे बड़ी जो समस्या आती हैं वह हैं उच्चाधिकारियों से रिश्ते मजबूत न होने की और मेहनत के अनुरुप पदोन्नति न मिल पाने की। इस समस्या से मुक्ति पाने के लिए सूर्य देव की उपासना करने के साथ एक मुखी रुद्राक्ष धारण करना अतिशुभ फलदायक रहता है।

एक मुखी रुद्राक्ष सूर्य ग्रह का रुद्राक्ष हैं। सूर्य ग्रह उच्चाधिकारियों से मधुर संबंध, उच्च पद और सरकारी नौकरी की प्राप्ति में सहयोगी साबित होते हैं। एक मुखी रुद्राक्ष अद्भुत और अमोघ रुद्राक्ष हैं। पदोन्नति की प्राप्ति के साथ साथ यह रुद्राक्ष जीवन के जीवन में सुख-शांति प्रदान कर आत्मबल को बेहतर करते हैं। विशेष रुप से जिन व्यक्तियों को सूर्य ग्रह की शुभता प्राप्ति में किसी भी प्रकार की परेशानी हो रही हों उन व्यक्तियों को एक मुखी रुद्राक्ष अवश्य धारण करना चाहिए।

कार्यक्षेत्र में क्रोध और आवेश से बचने के लिए रुद्राक्ष

जिन व्यक्तियों को कार्यक्षेत्र में व्यर्थ का आवेश आता हों तो उन व्यक्तियों को २ मुखी रुद्राक्ष धारण करने से लाभ मिलता हैं। २ मुखी रुद्राक्ष व्यक्ति को मानसिक शांति तो देता ही हैं साथ ही यह व्यक्ति को करियर के कार्यों में सहजता और नियमितता भी देता हैं। चंद्र ग्रह के सभी शुभ फल पाने के लिए दो मुखी रुद्राक्ष धारण किया जाता हैं। कार्य क्षेत्र में सौहार्द बनाए रखने में भी यह रुद्राक्ष उपयोगी रहता हैं। व्यापारियों को यह रुद्राक्ष सफलता और शीघ्र उन्नति देता हैं। नौकरी पेशा महिलाओं को यह रुद्राक्ष अवश्य ही पहनना चाहिए।

व्यापार क्षेत्र में लाभ प्राप्ति के लिए रुद्राक्ष

किसी भी तरह के व्यापार से जुड़े व्यक्तियों को तीन मुखी रुद्राक्ष धारण करना चाहिए। नवग्रहों में बुध ग्रह व्यापार और व्यापारिक गतिविधियों के कारक ग्रह हैं। प्रत्येक प्रकार के व्यापार में लाभ और बेहतर परिणाम प्राप्ति के लिए बुध का चार मुखी रुद्राक्ष पहनना चाहिए। बुध ग्रह बुद्धि और बौद्धिक योग्यता से संबंधित ग्रह हैं।

लेन-देन और क्रय-विक्रय के लिए बुध की शुभता प्राप्त होनी चाहिए। इस उद्देश्य के लिए चार मुखी रुद्राक्ष पहनना व्यापार में लाभ और सफलता दोनों देता हैं। इसके अतिरिक्त प्रबंधन, नियोजन, मार्केटिंग की योग्यता को बढ़ाने के लिए भी चार मुखी रुद्राक्ष पहना जाता है। चार मुखी रुद्राक्ष व्यक्ति की निर्णय क्षमता में निखार लाता है। सहयोगियों का सहयोग समय पर प्राप्त होता हैं।

अनुभव और योग्यता के पूर्ण उपयोग के लिए रुद्राक्ष

नौकरी का क्षेत्र हों, व्यापार का क्षेत्र हों या जीवन का अन्य कोई क्षेत्र हों सभी में हमें अपनी योग्यता सिद्ध करनी ही होती हैं। ज्योतिष शास्त्र में यह कार्य गुरु ग्रह करता हैं। करियर और कार्यक्षेत्र में अपनी योग्यता का पूर्ण उपयोग करने के लिए पांच मुखी रुद्राक्ष धारण किया जाता है। यदि किसी व्यक्ति को कार्यक्षेत्र में अपने वरिष्ठाधिकारियों का समय पर सहयोग नहीं मिलता हों तो ऐसे सभी व्यक्तियों को पांच मुखी रुद्राक्ष धारण करना चाहिए।

नौकरी में अनुकूल फल प्राप्ति के लिए रुद्राक्ष

नौं ग्रहों में शनि ग्रह नौकरी, मेहनत और निष्ठा के कारक ग्रह हैं। शनि साढेसाती, शनि ढ़ैय्या और शनि महादशा में शुभ पाने के लिए शनि ग्रह का सात मुखी रुद्राक्षा धारण किया जाता हैं। सभी नौकरीपेशा व्यक्तियों को सात मुखी रुद्राक्ष अवश्य धारण करना चाअहिए। इससे मेहनत का जल्द फल प्राप्त होता हैं, कार्यक्षेत्र में कार्य सहजता से पूरे होते हैं। जिसके फलस्वरुप व्यक्ति को नौकरी में मेहनत के अनुसार उन्नति मिलती हैं।


Previous
रत्न और ज्योतिष : जानिए कौन सा रत्न हैं आपके लिए फायदेमंद

Next
नीलम रत्न के अद्भुत और चमत्कारिक गुण