गुरु गोचर 2018-19

By: Future Point | 24-Sep-2018
Views : 12531
गुरु गोचर 2018-19

ज्योतिष के नौ ग्रहों के द्वारा हम सभी का जीवन संचालित होता है। हम सभी के जीवन की छोटी-बड़ी सभी घटनाओं में बदलते हुए ग्रहों की भूमिका महत्वपूर्ण होती है। यही कारण है कि किसी एक समय के दो अच्छे मित्र ग्रह, गोचर और दशा बदलने पर शत्रु बन जाते हैं। वास्तव में देखा जाए तो सभी जीवमात्र उस सर्वशक्तिमान सत्ता के हाथों की कठपुतलियां हैं, जिनमें धागों का कार्य नवग्रह कर रहे हैं।

इसलिए धागों की दिशा अर्थात ग्रहों का गोचर बदलने पर जीवन स्वतः बदल जाता है। कभी एक और कभी एक से अधिक ग्रह वैसे तो प्रत्येक माह अपनी राशि बदलते ही रहते हैं, परन्तु जब एक साथ कई ग्रह राशि परिवर्तन करते हैं, तो परिणाम विशेष प्रभावशाली हो जाते हैं।

गुरु (बृहस्पति) ज्योतिष के नवग्रहों में सबसे अधिक शुभ ग्रह माने जाते हैं। गुरु मुख्य रूप से आध्यात्मिकता को विकसित करने के कारक ग्रह हैं। ये तीर्थ स्थानों, मंदिरों, पवित्र नदियों तथा धार्मिक क्रिया-कलाप से जोड़ते हैं। साथ ही गुरु ग्रह अध्यापकों, ज्योतिषियों, दार्शनिकों, संतान, जीवन-साथी, धन-सम्पत्ति, शैक्षिक गुरु, बुद्धिमत्ता, शिक्षा, ज्योतिष, तर्क, शिल्पज्ञान, अच्छे गुण, श्रद्धा, त्याग, समृद्धि, धर्म, विश्वास, धार्मिक कार्यों, राजसिक और सम्मान के सूचक ग्रह भी हैं। 11 अक्तूबर 2018 के बाद वृश्चिक राशि में गोचर करने वाले हैं। साल भर में गुरु का वॄश्चिक और धनु राशि में रहना विभिन्न राशियों के लिए अलग अलग प्रकार का फल देने वाला रहेगा। आपके लिए यह किस प्रकार का रहना वाला है। आईये जानें-


Aries4


मेष राशि

गुरु अक्तूबर से आपके आठवें भाव पर रहेंगे इस समय में आपको अपने सम्मान के प्रति सतर्क रहना होगा। अन्यथा सम्मान की हानि हो सकती है। आपके और पिता के स्वास्थ्य पर कुछ रुपये खर्च हो सकते है। पुराने शत्रु परेशान कर सकते है। जीवन में अचानक कुछ समस्याए आ सकती है, मगर भाई बहनों से मदद मिलेगी। विदेश जाने में रुकावट दूर होगी दाम्पत्य जीवन में मधुरता बढ़ेगी, कभी कभी कुछ अनबन भी संभव है। स्वास्थ्य भी उत्तम रहेगा। नए मित्रों से पहचान होगी। अप्रैल माह और नवम्बर-दिसम्बर माह में गुरु भाग्य भाव पर विचरण करेंगे। इस स्थिति में गुरु भाग्योदय करेंगे। मित्रों का सहयोग, स्वास्थ्य सुख और प्रेम व संतान विषयों में बेहतर परिणाम प्राप्त होंगे।


Taurus4


वृष राशि

गुरु वॄश्चिक राशि में प्रवेश कर गुरु आपके सातवें भाव पर विचरण करेंगे। ऐसे में कोई नया व्यवसाय शुरु करना चाहते हैं तो कर सकते हैं। अविवाहितों के विवाह की प्रतीक्षा पूरी होगी। व्यापारिक यात्राओं के लिए भी समय की शुभता बनी हुई है। गुरु गोचर में आपको इस विषय में सहायता करेंगे। 29 मार्च 2019 से अप्रैल 23 तक और नवम्बर-दिसम्बर माह 2019 में गुरु आठवें भाव पर ही रहेंगे। शेष वर्षावधि में गुरु वक्री होकर वापस वृश्चिक राशि में ही वापसी करेंगे। वक्री अवधि में गुरु अपने मूल फलों के विपरीत फल देंगे। आठवें भाव में गुरु प्रभाव से परिवार में कोई नया सदस्य आने का संकेत दे रहे हैं। माता को स्वास्थ्य सुख, शुभ कार्यों पर व्यय, कुटुम्ब में स्नेह की स्थिति रहेगी।


Gemini4


मिथुन राशि

गुरु आपके छ्ठे भाव पर गोचर करने लगेंगे। ऐसे में मामा मौसी से लाभ मिलेगा। माता पिता किसी धार्मिक यात्रा पर जा सकते है। प्रॉपर्टी को लेकर कोई परेशानी है तो वह ठीक हो जाएगी। संतान को धन लाभ हो सकता है, नए काम से नई पहचान मिलेगी। शत्रुओ से संभलकर रहे। कर्ज से भी धीरे धीरे छुटकारा मिलेगा और कर्ज धीरे-धीरे कम होगा। अप्रैल, नवम्बर एवं दिसम्बर मास में व्यापार का विस्तार, मान-सम्मान में वृद्धि, जीवन साथी का सहयोग, साझेदारी में अनुकूलता देगा और आय-लाभ से जुड़े क्षेत्रों में पहले से बेहतर परिणाम देगा।


Cancer4


कर्क राशि

अक्तूबर माह 2018 से गुरु आपके पंचम भाव पर गोचर करने लगेंगे। यह आपको आकस्मिक लाभ देंगे। आय अच्छी रहेगी। संतान की प्रगति होगी। जो संतान चाहते है उनके लिए यह समय ठीक है। भाग्य आपका साथ देगा। विद्यार्थियों का पढाई में मन लगेगा। प्रेम का जीवन में आगमन होगा, रुके हुए कार्य गति पकड़ेंगे, आय में बढ़ोतरी होगी, शेयर बाजार से लाभ होगा। गुरु अप्रैल, नवम्बर एवं दिसम्बर मास 2019 में छठे भाव पर रहेंगे। इस स्थिति में रोगों की अधिकता रहेगी। ॠण और उधार लेन-देन के कार्य किए जा सकते हैं। विरोधी प्रबल बने हुए हैं। पारिवारिक मामलों को कोर्ट कचहरी में ले जाने से बचें। कारोबार के लिए समय उत्तम, लाभ के नवीन क्षेत्रों की तलाश पूर्ण होगी।


Leo4


सिंह राशि

गुरु आपके चतुर्थ भाव पर आ जायेंगे। इस स्थिति में माता के स्वास्थ्य का ध्यान रखें। पिता के लिए शुभ समय है उनका मान-सम्मान बढ़ेगा। आपके घर धार्मिक पूजा कार्य होंगे। सम्मानीय लोगों का आपके घर आना जाना रहेगा। चौथे भाव का गुरु स्थान परिवर्तन करा सकता है। भूमि लेने से पहले सभी भूमि के दस्तावेजों की जांच कर लें। वर्ष के तीन मास अप्रैल, नवम्बर और दिसम्बर में गुरु पंचम भाव पर रहेंगे। ऐसे में पदोन्नति, करियर में उन्नति, धार्मिक यात्राएं, भाग्य का सहयोग, दीर्घकालीन रोगों से मुक्ति मिलेगी।


Virgo4


कन्या राशि

गुरु आपके तीसरे भाव पर रहेंगे। जिसके कारण आपके अपने छोटे-भाई बहनों से कुछ मन-मुटाव हो सकते हैं। कार्यों में भाग्य का सहयोग प्राप्त होगा। वैवाहिक जीवन का प्रारम्भ, नए साझेदारी कार्य शुरु किए जा सकते हैं। बड़े भाईय़ों से रिश्ते मजबूत होंगे। गाडी चलाते समय सावधान रहे। नए रिश्ते, नए दोस्त, नए पड़ोसी बन सकते हैं। अप्रैल, नवम्बर और दिसम्बर माह में चतुर्थ भाव पर गुरु ग्रह की स्थिति सामाजिक प्रतिष्ठा बढ़ाएगी, भाग्य में अचानक से उतार चढ़ाव की स्थिति, सुख-शांति की प्राप्ति। प्रेमी मित्रों के लिए उत्तम समय और माध्यमिक स्तर के छात्रों को शिक्षा में मनोनूकुल परिणाम प्राप्त होंगे।


Libra4


तुला राशि

गुरु अक्तूबर माह के प्रथम सप्ताह से दूसरे भाव पर गोचर करने लगेंगे। जिस कारण आर्थिक स्थिति में सुधार आएगा। परिवार में मधुरता बानी रहेगी। नये कार्य होंगे परिवार ने नये सदस्य या संतान के योग बनेंगे। अटके हुए कार्य पूर्ण होंगे। माता का साथ रहेगा। भूमि में फायदा रहेगा अर्थात धन कमाई में अच्छा समय रहेगा। वाणी में मिठास आएगी। गुरु के तीसरे भाव पर रहने के समय मित्रों में वृद्धि, व्यापार-व्यवसाय के लिए अनुकूल समय, अपना कार्य शुरु कर सकते हैं। आय बेहतर होगी और दूरस्थ यात्रा के अवसर बनेंगे। यदि आप शादी के बंधन में बंधना चाहते है तो निश्चय ही आपके लिए अनुकूल समय है।


Scorpio4


वृश्चिक राशि

संतान प्राप्ति की प्रतिक्षा समाप्त होगी, अध्ययनरत छात्रों को आगे बढ़ने के अवसर प्राप्त होंगे। दांपत्य जीवन में स्नेह व सहयोग बना रहेगा, नया व्यापार शुरु किया जा सकता हैं। धर्म-कर्म से संबंधित गतिविधियों में बढ़-चढ़ कर भाग लेंगे। धन प्रवाह में सुधार होगा। स्वयं में नई ऊर्जा के संचार का अनुभव करेंगे। संतान का स्नेह मिलेगा और भविष्य से संबंधित योजनाओं पर विचार करेंगे। अप्रैल, नवम्बर एवं दिसम्बर मास में दूसरे भाव पर गुरु की स्थिति धन संचय में कमी, कुटूम्ब में मतभेद और शेयर बाजार में धन विनियोजन से हानि करा सकती हैं। धन विनियोजन और ॠण से जुड़े कार्य इस समय में किए जा सकते हैं।


Sagittarius4


धनु राशि

गुरु साल के उत्तरार्द्ध में राशि परिवर्तित कर आपके बारहवें भाव पर गोचर करने लगेंगे। जिस कारण कुछ समस्या आ सकती है व खर्च अधिक होंगे। संतान, परिवार, धार्मिक कार्य, ऐशो आराम पर अधिक खर्चे होंगे। धन कमाने हेतु घर से दूर जाना पड़ सकता है। मेहनत अधिक करनी होगी तभी भाग्य साथ देगा। तनाव और चिंता की स्थिति रहेगी। नैनिहाल से रिश्ते मजबूत होंगे। दांपत्य जीवन में चल रहे विवादों का समाधान निकलेंगा। यात्राओं के कार्यक्रम बनेंगे। अप्रैल, नवम्बर और दिसम्बर मास में गुरु जन्मराशि पर गोचर करेंगे, इस स्थिति में विवाहयोग्य जातकों की कामना पूर्ण होगी। शैक्षिक क्षेत्र में मनोनूकुल फल प्राप्त होंगे। परिवार से बनाकर रखें। कार्य सहजता से पूरे होंगे। व्यापार-व्यवसाय में उन्नति और सेहत में सुधार होगा।


Capricorn4


मकर राशि

गुरु ग्रह अक्तूबर माह 2018 में राशि बदल कर तुला से वृश्चिक राशि में प्रवेश करेंगे। इसलिए यह समय अच्छा रहेगा। सरकारी नौकरी में पदोन्नति के अवसर बनेंगे। भाई-बहन, मित्र, पडोसियों से सम्बन्ध मधुर बनेंगे। दाम्पत्य जीवन सुखद रहेगा। संतान की तरक्की से खुशखबरी मिल सकती है। यात्रा शुभ रहेगी। नए मित्र बनेंगे जो आपके लिए अच्छे रहेंगे। शेयर बाजार में रुके हुए पैसे से अब लाभ हो सकता है। विद्यार्थियों के लिए समय अच्छा है। अप्रैल, नवम्बर और दिसम्बर मास 2019 में रोगों का आगमन होने से स्वास्थ्य सुख में कमी रहेगी। मित्रों के साथ यात्रा के अवसर बनेंगे। माता के स्वास्थ्य में सुधार होगा। लम्बी यात्राओं के योग बनेंगे। अत्यधिक व्यय की स्थिति बनी हुई है।


Aquarius4


कुम्भ राशि

गुरु आपके कर्मभाव पर गोचर करने लगेंगे। कार्यक्षेत्र में कुछ परेशानी आ सकती है। सरकारी नौकरी वालों की पदोन्नति संभावित है। साथ ही स्थान परिवर्तन हो सकता है। नए रोजगार मिलेंगे। राजकीय लोगों के लिए समय अच्छा रहेंगे। मकान वाहन के योग है। कही अगर धन रुका हुआ है तो वह धीरे-धीरे मिलना शुरू हो जाएगा घर की साज-सज्जा पर खर्च होंगे। अप्रैल, नवम्बर और दिसम्बर मास 2019 में आय के नए साधन प्राप्त होंगे। दांपत्य जीवन में सुख-शांति की स्थिति और प्रेम विषयों में स्नेह की स्थिति बनी हुई है। संतान की ओर से कोई शुभ सूचना प्राप्त होगी। माता के स्वास्थ्य की हानि हो सकती हैं।


Pisces4


मीन राशि

गुरु आपके भाग्य भाव पर गोचरस्थ रहेंगे। भाग्य आपका साथ देगा और लक्ष्मी जी आपके घर होंगी। धर्म और अध्यात्म में रूचि बढ़ेगी, संतान सुख मिलेगा, विद्यार्थियों के लिए अच्छा समय है। भाई-बहनों से सम्बन्ध मजबूत होंगे। अगर आप मेहनत करते हैं तो समाज, परिवार, व्यापार में अच्छे परिवर्तन आएंगे। जिससे आपकी आमदनी बढ़ेगी। यह समय आपके जीवन साथी के लिए भी अच्छा समय है। अप्रैल, नवम्बर एवं दिसम्बर मास 2019 में अधिकारिक शक्तियों का विस्तार होगा। करियर के लिए लाभकारी समय हैं। कार्यस्थल पर मेहनत में कमी न करें, आपको योग्यतानुसार कार्य करने के अवसर प्राप्त होंगे।


Previous
How Kalsarpa Yoga gets more strength?

Next
Navratri: Facts and myths you should know!