मकर राशि में मंगल का 40 दिन का गोचर - इन राशियों को पहुंचेगा लाभ? इन राशियों का होगा नुकसान?

By: Acharya Rekha Kalpdev | 31-Jan-2024
Views : 1122
मकर राशि में मंगल का 40 दिन का गोचर - इन राशियों को पहुंचेगा लाभ? इन राशियों का होगा नुकसान?

वैदिक ज्योतिष में मंगल वीरता, ऊर्जा, ओजपूर्ण, साहस, जोश, उत्साह का कारक ग्रह है। ग्रहों के मंत्रिमंडल में मंगल को सेनापति का स्थान प्राप्त है। मंगल सैनिक है होने के कारण, युद्ध और बॉर्डर पर होने वाली गतिविधियों का भी प्रतिनिधित्व करता है। सैन्य, प्रतिस्पर्धात्मक, रोमांचक कार्य, क्रिया और प्रतिक्रिया का कारक ग्रह है। क्रियाशीलता, जीवन उद्देश्यों के प्रति सजग, जन्मपत्री में मांगलिक योग का निर्माण भी मंगल से ही होता है।

मंगल ग्रह 05 फरवरी 21:43 सोमवार, 2024 को मकर राशि में गोचर करने वाले है। मंगल 05 फरवरी 2024 से लेकर 15 मार्च 2024 तक मकर राशि में रहेंगे, इसके बाद 15 मार्च को मंगल शनि की कुम्भ राशि में गोचर करने लगेंगे। इस अवधि में भी मंगल 13 मार्च से लेकर 14 मार्च को 28 अंश के रहेंगे, ज्योतिष की जानकारी रखने वाले मित्रगण जानते है की मंगल मकर राशि में 28 अंश पर उच्चस्थ होते है। इस प्रकार से 13 मार्च और 14 मार्च दो दिन का समय मंगल गोचर के पक्ष से विशेष रहने वाला है। मकर राशि में मंगल 40 दिन रहेंगे, 40 दिनों में मंगल अपनी उच्च राशि में रहेंगे। मंगल शनि की मकर राशि में उच्चस्थ होते है, और चंद्र की कर्क राशि में नीचस्थ होते है। मेष और वृश्चिक राशि पर मंगल ग्रह का स्वामित्व है। इस समय मंगल पर कन्या राशि से केतु की पंचम दृष्टि का प्रभाव भी रहने वाला है। अत: मंगल से मिलने वाले फलों में केतु के फल भी शामिल होंगे। मकर राशि में मंगल के 40 दिन सभी 12 राशियों के जीवन को किस प्रकार प्रभावित करने वाले है।

 

विद्वान ज्योतिषियों से करें कॉल पर बात और जानें नए साल से संबंधित सारी जानकारी

मेष राशि मंगल मकर राशि में गोचर 2024

मंगल आपकी राशि से दशम भाव में उच्च का होकर गोचर कर रहा है। इस समय आपमें क्रोध और आवेश बहुत अधिक बढ़ा हुआ है। करियर में टीम हेड के रूप में आप उभर के सामने आएंगे। परिवार में भूमि भवन लेने की योजनाएं पूर्ण हो सकती है। आपकी पहल शक्ति से महत्वपूर्ण कार्य पूरे होंगे। इस समय भाग्य भी आपका साथ दे रहा है। विवादों पर प्रक्रिया देने से बचें, शांति, और धैर्य से रहें। अपनी सहनशक्ति को भी बढ़ाएं। अपना काम शुरू करने के लिए यह समय अवधि अनुकूल है। नौकरी पेशा लोगों को विरोधियों की आलोचनाओं का सामना करना पड़ सकता है।

वृषभ राशि मंगल मकर राशि में गोचर 2024

मंगल आपके नवम भाव में उच्चस्थ हो रहे है। कार्यभार की अधिकता रहेगी। कार्यों को, योजनाओं को पूरा करने में आपका प्रयास सराहनीय रहेगा। आपके जीवन साथी की हेल्थ में कमी के योग बने हुए है। साझेदारों पर संदेह और भ्रम की स्थिति न रखें। पिता के क्रोध का सामना करना पड़ सकता है। पिता के साथ अपने रिश्तों को मधुर बनाये रखना, सही रहेगा। बौद्धिक विषयों में बुद्धि का सहयोग नहीं मिलने के संकेत मिल रहे है। लम्बी दूरी की यात्राओं के कार्यक्रम बन सकते है। घर की शांति अशांति में बदल सकती है।

मिथुन राशि के लिए मंगल मकर राशि में गोचर 2024

मंगल आपकी जन्म राशि से 8वें भाव में गोचर कर रहा है। आय और लाभ के लिए मंगल गोचर के फल शुभ बने हुए है। इस समय में जिस भी कार्य को करने के लिए कोशिश करेंगे, उसी कार्य में सफलता मिलेगी। नई नौकरी के इंटरव्यू में सफलता के योग बने हुए है। असाध्य और लम्बे समय तक कष्ट देने वाले रोग इस समय सक्रीय हो रहे है। छुपे हुए शत्रुओं से भी हानि, कष्ट के योग बने हुए है। अपनी ऊर्जा को विवादित विषयों पर लगाने से बचें। वाणी में ओज बना हुआ है। तंत्र क्रियाओं में रूचि जागृत हो सकती है।

कर्क राशि के लिए मंगल मकर राशि में गोचर 2024

मंगल का गोचर आपके 7वें भाव पर हो रहा है। जीवन साथी के क्रोध और नाराजगी की स्थिति बनी हुई है। आप अपने व्यवहार में भी मधुरता लाये, क्रोध और प्रतिक्रिया से रिश्ते बिगड़ सकते है। व्यापारिक क्षेत्र का विस्तार दूर देश तक करने की योजनाओं को आगे बढ़ाया जा सकता है। शनि ढैय्या और राहु का प्रभाव राशि पर होने के कारण तनावयुक्त रहेंगे। अप्रत्याशित घटनाओं के कारण करियर में अच्छा परफॉर्म नहीं कर पाएंगे। परिवार से दूर जाने की स्थिति बन सकती है। वैवाहिक जीवन में भी असंतोष बना रहेगा।

सिंह राशि के लिए मंगल मकर राशि में गोचर 2024

मंगल का गोचर आपके 6वें भाव पर हो रहा है। आपकी और से प्रयास की कमी दृष्टिगोचर हो रही है। हेल्थ में कमी के योग बने हुए है। अपने स्वास्थ्य का खास ध्यान रखना होगा।  दूसरों के भरोसे कार्यों को अधूरा न छोड़े, स्वयं से कार्य पूरे करें। आपके पिता जी को उनके करियर में पदोन्नति के योग इस समय बने हुए है। रोग और शत्रु बढे होने के कारण बचत में भी कमी हो सकती है। लम्बी दूरी की यात्राओं और विदेश गमन के प्रयासों को सफलता मिलेगी। संतान सम्बंधित कार्यों के लिए भी ग्रह गोचर की अनुकूलता मिल रही है।

 

बृहत् कुंडली में छिपा है, आपके जीवन का सारा राज, जानें ग्रहों की चाल का पूरा लेखा-जोखा

कन्या राशि के लिए मंगल मकर राशि में गोचर 2024

मंगल का गोचर आपकी राशि से 5वें भाव पर हो रहा है। संतान पर गुस्सा उतारने से आपसी रिश्ते बिगड़ सकते है। रोगों पर नियंत्रण रखने में सफल होंगे। आपके अतिरिक्त प्रयास से आय, लाभ में सुधार के योग बने हुए है। नौकरी में बदलाव के प्रयास सफल रहेंगे। साझेदारी क्षेत्रों में अविश्वास भाव के कारण अलगाव की स्थिति बन सकती है। प्रेम संबंधों में ईगो और अहंकार बना हुआ है। छात्रों को मेहनत के बल पर सफलता मिलेगी। आय क्षेत्रों से अच्छा रिटर्न्स मिल सकते है। धार्मिक कार्यों का आयोजन घर में हो सकता है।

तुला राशि के लिए मंगल मकर राशि में गोचर 2024

मंगल आपकी राशि से 4वें भाव पर गोचर कर रहे है। भूमि, भवन और सुखों में वृद्धि के प्रयास होंगे। वाहन और गृह करने के लिए भी ग्रह गोचर साथ दे रहा है। जीवन साथी और बिजनेस पार्टनर पर नाराजगी दिखाने और क्रोध करने से बचना होगा। करियर में भी आपके प्रयास से पुरानी योजनों और पुराने कार्य पूरे होंगे। घर से दूर जाने की स्थिति बन सकती है। कुछ नया शुरू करने का मन होगा। योजनाओं पर इस समय में कार्य शुरू किया जा सकता है। माता की हेल्थ में कमी के योग है, उनका विशेष ध्यान रखना सही रहेगा।

वृश्चिक राशि के लिए मंगल मकर राशि में गोचर 2024

मंगल आपके 3रे भाव में गोचर कर रहे है। प्रतिस्पर्धात्मक विषयों के लिए मंगल का यह गोचर आपके लिए लाभकारी सिद्ध हो सकता है। भाग्य का साथ भी आपके साथ बना हुआ है। जोश में आकर मित्रों पर प्रतिक्रिया करने से बचें। भाई बहन और मित्रों के साथ गहमागहमी हो सकती है। अतिरिक्त ऊर्जा और कोशिशों से करियर में भी अपनी योग्यता दिखाने के अवसर बन सकते है। निराशा और उदासी को अपने से दूर रखें। पॉजिटिव रहे, और पॉजिटिव होकर कार्यों को पूरा करने, परिणाम अनुकूल आएंगे। अविश्वास की स्थिति भी इस समय बनी हुई है।

धनु राशि के लिए मंगल मकर राशि में गोचर 2024

मंगल आपकी राशि से 2रे भाव में गोचर कर रहा है। इस समय वाणी में क्रोध और आवेश की मात्रा अधिक रहेगी। पैतृक भूमि से जुड़े मामलों में वाद-विवाद के योग बने हुआ है। पुश्तैनी मसलों पर खर्च होने से संचित धन में कमी होगी। इस समय आपको शब्दों का प्रयोग सावधनी के साथ करना होगा, वाणी में कटाक्ष और चुभने वाले शब्दों का प्रयोग करने से बचे। परिवार के साथ तालमेल बनाकर चले, अच्छा होगा की क्रोध में प्रतिक्रिया देने बचें। संतान से जुड़े कार्यों पर भी खर्च हो सकते है। प्रेमियों का कोई नया प्रेम सम्बन्ध शुरू हो सकता है।

मकर राशि के लिए मंगल मकर राशि में गोचर 2024

मंगल आपकी जन्मराशि में गोचर कर रहे है। इस समय में हेल्थ का ध्यान रखें। अत्यधिक साहस और जोश दिखने से बचें। धैर्य और सहनशक्ति से इस समय के अशुभ प्रभाव को कम किया जा सकता है। जीवन साथी और बिजनेस पार्टनर के साथ स्नेह और मधुरता के साथ व्यवहार करें। अधिक धन कमाने के उद्देश्य से जोखिमपूर्ण क्षेत्रों में  साहस और जोश दिखाने से बचना होगा। साहस, शक्ति और ऊर्जा को पॉजिटिव कार्यों में लगाएं। वैवाहिक जीवन और ससुराल पक्ष के साथ मधुर व्यवहार करें। इस समय आप अपने बलबूते पर आय और लाभ बढ़ाने में सफल रहेंगे।

कुम्भ राशि के लिए मंगल मकर राशि में गोचर 2024

व्यवसायिक कार्यों से लम्बी दूर की यात्राएं करनी पड़ सकती है। नौकरी में स्थानांतरण की प्रतीक्षा पर विराम लगेगा। मित्रों की संख्या में भी वृद्धि के योग है। प्रतियोगी परीक्षाओं में शामिल होने वाली छात्रों का ध्यान अन्यत्र होने के योग है। अत्यधिक व्ययों पर नियंत्रण रखने की आवश्यकता है। शत्रुओं और विरोधियों पर हावी रहेंगे। दूसरी नौकरी में बदलाव के लिए ग्रह योग साथ दे रहे है। चचेरे भाई बहनों से अनबन से बचें। उत्साह और ऊर्जा में कमी संभावित है। हेल्थ का ध्यान रखना होगा।

मीन राशि के लिए मंगल मकर राशि में गोचर 2024

मंगल आपकी राशि से 11वें भाव में गोचर कर रहे है। आय और इच्छाओं को पूरा करने के लिए एक्स्ट्रा एफ़र्ड्स करेंगे। व्ययों का विस्तार इस समय बना हुआ है। कोर्ट कचहरी, प्रतियोगी परीक्षाओं के परिणाम आपके अनुकूल आ सकते है। पैतृक सम्पति के विषय चर्चा का विषय बनेंगे। मामा और मासी को हेल्थ का खास ध्यान रखना होगा। शेयर सट्टे में धन लगाने से आपको बचना होगा। आर्थिक स्थिति को बेहतर करने की भावना से कहीं बड़ी धन हानि न हो जाए। ऊर्जा को संतुलित करने की आवश्यकता है।


Previous
Mars, Mercury & Venus ‘Chatur-Grahi Yoga’ in Capricorn: Lucky Zodiac Signs

Next
Gauri Teej 2024: कब है गौरी तीज व्रत? जानें तारीख, मुहूर्त, और पूजा विधि