शनि की टेढ़ी नजर पड़ जाए तो काम आएंगे ये उपाय

By: Future Point | 18-Oct-2018
Views : 6292
शनि की टेढ़ी नजर पड़ जाए तो काम आएंगे ये उपाय

हिंदू धर्म में शनि देव को सबसे ज्‍यादा क्रूर और शक्‍तिशाली ग्रह कहा गया है। शनि देव मनुष्‍य के पाप और पुण्‍य के आधार पर उसे फल देते हैं। जिस पर भी शनि देव की टेढ़ी नज़र पड़ जाए उसका जीवन नर्क के समान बन जाता है और उसके हर कार्य में बाधाएं आने लगती हैं।

ज्‍योतिष में शनि की टेढ़ी नज़र का भी उल्‍लेख मिलता है और कहा जाता है कि इस दशा में शनि देव मनुष्‍य को खूब कष्‍ट पहुंचाते हैं। तो चलिए जानते हैं कि कुंडली में जब शनि देव की टेढ़ी नज़र पड़ रही हो तो जीवन पर इसका क्‍या असर पड़ता है।

शनि की अशुभ छाया के कारण

  • अगर आपकी कुंडली में शनि की साढेसाती या ढैय्या चल रही हो तो उस व्‍यक्‍ति पर शनि देव का अशुभ प्रभाव रहता है।
  • शनि की महादशा होने पर भी शनि की टेढ़ी नज़र पड़ती है। शनि की महादशा को भी अशुभ माना गया है।
  • अगर जन्‍मकुंडली में शनि देव किसी अशुभ स्‍थान में बैठे हैं जैसे कि तीसरे, सातवे या दसवे घर में बैठे हैं तो शनि अशुभ प्रभाव देने लगते हैं।

शनि देव को क्‍यों माना जाता है अशुभ ग्रह

शनि देव के कुप्रभाव एवं अशुभ होने का संबंधि एक पौराणिक कथा से है। किवदंती है कि शनि देव का विवाह एक स्‍त्री से हुआ था जिसका नाम चित्ररथ था। एक बार शनि देव तपस्‍या में लीन थे कि उसी समय उनकी पत्‍नी वहां आ गई। तपस्‍या में लीन शनि देव ने अपनी पत्‍नी पर ध्‍यान नहीं दिया। इस बात से क्रोधित होकर चित्ररथ ने अपने ही पति शनि देव को शाप दे दिया कि आपने अपनी पत्‍नी को प्रेम से नहीं देखा इसलिए आज के बाद जिस पर भी आपकी नज़र पड़ेगी उसका बुरा समय शुरु हो जाएगा। बस तभी से शनि की नज़र पर अशुभ छाया पड़ गई।

शनि की टेढ़ी नज़र का प्रभाव

  • अगर किसी पर शनि देव की टेढी नज़र पड़ रही है तो वह व्‍यक्‍ति रोगी बन जाता है। जी हां, शनि देव की बुरी छाया रोग भी दे सकती है। शनि देव पैरों का कोई रोग दे सकते हैं।
  • शनि के अशुभ प्रभाव में पैसों का नुकसान होता रहता है। धन टिकता नहीं है और व्‍यापार में भी हानि होने लगती है।
  • कार्यों में बाधाएं आने लगती हैं और बनते काम भी बिगड़ जाते हैं। बेवजह के खर्चों से मानसिक तनाव बढ़ने लगता है। घर पर पालतू काले जानवर की मृत्‍यु हो जाती है।
  • घर में ही वस्‍तुएं खोने लगती हैं या फिर टूटने लगती हैं।

कुल मिलाकर शनि देव पीड़ा ही देते हैं। शनि की टेढ़ी नज़र से बचने के लिए कुछ ज्‍योतिषीय उपाय भी मौजूद हैं जिनकी मदद से आप शनि के प्रकोप को शांत करके उनकी कृपा पा सकते हैं। तो चलिए जानते हैं शनि की टेढ़ी नज़र से बचने के उपायों के बारे में ...

शनि की टेढ़ी नज़र से बचने के उपाय

  • शनि देव को प्रसन्‍न करने और उनके द्वारा मिल रहे अशुभ प्रभाव को शांत करने के लिए शनिवार के दिन हनुमान चालीसा का पाठ करें। शनिवार के दिन हनुमान जी की पूजा करने से शनि देव और हनुमान जी दोनों की कृपा मिलती है।
  • पीपल के पेड़ पर तेल का दीया जलाएं। शनिवार की रात को मंदिर जाएं और वहां पर पीपल के पेड़ के नीचे सरसों के तेल का दीपक जलाएं।
  • प्रत्‍येक शनिवार के दिन शनि देव को तेल अर्पित करें। इस दिन तेल का दान करने से भी शनि की पीड़ा शांत होती है।
  • काले घोड़े की नाल से बनी अंगूठी या छल्‍ला धारण करें। कहते हैं कि काले घोड़े के पैरों पर शनि देव की कृपा होती है इसलिए काले घोड़े की नाल से बनी अंगूठी आपको शनि देव को प्रसन्‍न करने में मदद करेगी।
  • शनिवार के दिन काले चने और काली उड़द की दाल का दान करने से भी लाभ होगा। इस दिन आप किसी गरीब या जरूरतमंद व्‍यक्‍ति को काले रंग की चप्‍पल भी दान करें। गरीबों की मदद करने वालों से शनि देव हमेशा प्रसन्‍न रहते हैं।
  • इन ज्‍योतिषीय उपायों के अलावा शनि शां‍ति पूजा भी आपको शनि के अशुभ प्रकोप से बचा सकती है। अगर आप शनि की ढैय्या या साढ़ेसाती से गुज़र रहे हैं तो आपको शनि शांति पूजा जरूर करवानी चाहिए। Future Point के अनुभवी ज्‍योतिषाचार्यों द्वारा आप अपने या अपने किसी परिजन के लिए शनि शांति पूजा करवा सकते हैं। उपायों का लाभ आपको धीरे-धीरे मिलेगा ले‍किल शनि शांति पूजा का प्रभाव आपको जल्‍द दिखने लगेगा।

Future Point द्वारा करवाई गई शनि शांति पूजा की सबसे खास बात यह है कि आप घर बैठे ऑनलाइन भी इस पूजा में शामिल हो सकते हैं।


Previous
Shardiya Navratri 2019 Day 9: Maa Siddhidatri & Kanya Pujan

Next
कब है महानवमी और कैसे करें नवमी पूजा