रूस व यूक्रेन युद्ध क्या तीसरे विश्व युद्ध का आगाज़ है? क्या कहता है ज्योतिष?

By: Future Point | 10-Mar-2022
Views : 2052
रूस व यूक्रेन युद्ध क्या तीसरे विश्व युद्ध का आगाज़ है? क्या कहता है ज्योतिष?

वर्ष २०२२ के फरवरी- मार्च महीनों में विश्व पटल पर इस समय घोर युद्ध के बादल छाये हुए हैं जिसे ले कर विश्व के प्रत्येक देश में अफरा तफरी का माहौल है I जी हाँ, हम बात कर रहे हैं यूक्रेन और रूस के मध्य चल रहे युद्ध की जिसमे विभिन्न प्रकार के आधुनिक अस्त्र शास्त्रों का उपयोग किआ जा रहा है I रूस व यूक्रेन इस समय युद्ध स्तर पर एक दुसरे पर आक्रमण कर रहे हैं जो तीसरे विश्व युद्ध की और इंगित कर रहा है I पर क्या वास्तव में तृतीय विश्व युद्ध होगा? इस महा युद्ध में भारत का क्या दृष्टिकोण रहेगा? विश्व की बड़ी ताकतें जैसे अमेरिका व भारत किसका साथ देंगी, युद्ध या शान्ति ? क्या विश्व के अन्य देश इस युद्ध में सम्मिलित हो कर इसे तीसरे विश्व युद्ध की और अग्रसर करेंगे या समझौते का पाठ पढ़ाएंगे? क्या कहती है रूस व यूक्रेन की कुंडली ?

ऐसे व ऐसे ही अनेक सवालों के जवाब पाने के लिए अंत तक पढ़िए….  

आकाशीय स्थिति क्या कहती है ?

मंगल एक क्षत्रिय ग्रह है और जैसे ही इसने अपनी उच्च राशि मकर में प्रवेश किया जहा शनि पहले से ही उपस्थित थे, युद्ध की दुंदुभि बज उठी I मंगल २७ फरवरी को मकर में गोचर कर गए थे जहां आते ही उन्होंने शनि के साथ मिलकर घातक योग का निर्माण कियाI न केवल मंगल परन्तु उस समय पांच ग्रह, शनि, मंगल, शुक्र, बुध और चन्द्रमा मकर में उपस्थित थे जो एक बड़े उठा-पठक की ओर इशारा करते हैं

परन्तु अब मकर राशि में शनि, मंगल व शुक्र ही उपस्थित हैं व बुध कुम्भ राशि में गोचर कर गए हैI यह एक पहले से बेहतर स्थिति है क्योंकि बुध हमारी वाक् शक्ति व आपसी बात चीत का प्रतिनिधित्व करता है I बुध के अपने मित्र की राशि कुम्भ में जाने से जहां पहले से ही देवगुरु बृहस्पति विद्यमान हैं, वातावरण में सकारात्मक प्रभाव लाएगी I बुध के शुभ स्थिति में आने से स्थितियों में सुधार आने की आशा है

Know more about

 

Match Analysis Detailed

Matching horoscope takes the concept...

 

Health Report

Health Report is around 45-50 page...

 

Brihat Kundli Phal

A detailed print of how your future...

 

Kundli Darpan

Kundli darpan is a complete 110 page...

आइयें जाने क्या हो सकता है ?

इस समय आकाश की स्थिति के अनुसार चार ग्रह एक साथ गोचर कर रहे थे पर अब बुध के वह से निकल जाने के बाद स्थिति में सकारात्मक बदलाव आएगा I बुध इस समय ब्रह्म योग बनाएंगे जो एक अत्यंत शुभ योग है I

किस योग में समझौते की बातचीत होगी असरदार?

ब्रह्म योग- बुध इस समय ब्रह्म योग का निर्माण कर रहा है जो समझौते के लिए एक उत्तम समय है I इस योग में किया गया समझौता व्यवहार में स्थायी होता है और धोखा धड़ी के कोई आसार नहीं होते I यदि इस समय रूस व यूक्रेन के मध्य कोई देश समझौते के लिए आगे बड़े तो चीज़ें बहुत हद तक सही की जा सकती हैं

बुध कुम्भ राशि में जाकर बातचीत का मार्ग प्रशस्त करेगा और यह देखना अत्यंत महत्वपूर्ण होगा की बुध किस देश की राशि में कहा जा रहा है या गोचर कर रहा है

यूक्रेन

यूक्रेन के लिए, बुध छठे स्थान से निकलकर इसके सातवे भाव में आएगा I यूक्रेन के षष्टम स्थान में मंगल, शनि व शुक्र की युति है जो शत्रु व शत्रुता को दर्शाती है I यूक्रेन की कुंडली सिंह लग्न की है और बुध इनके दुसरे व ग्यारवे भाव के मालिक है I बुध का सातवें भाव में गोचर बातचीत का मार्ग प्रशस्त करेगा और लगन में गुरु के स्थिति विवेकपूर्ण बुद्धि देगा जो सही व गलत को समझने में सहायक होगा I यूक्रेन की बातचीत में बदलाव आएगा और वे जो पहले सोच रहे होंगे अब ठीक उसके विपरीत सोचेंगे I यूक्रेन की समझ उसे बेहतर विकल्प की ओर जाने में मदद करेगा

यूक्रेन के राष्ट्रपति की कुंडली 

जेलेंस्की की कुंडली में बुध दसवें घर से निकलकर ग्यारहवें भाव में जा रहा है I बुध इनकी कुंडली में तीसरे व छठे घर का मालिक है जो एक शुभ संकेत नहीं है I यह स्थिति आवास पर खतरे का अंदेशा देती है I

अमेरिका के राष्ट्रपति जो बाइडेन की कुंडली

जो बाइडेन की कुंडली में बुध उनके आठवें व ग्यारहवें भाव के मालिक है जो की अब तीसरे भाव से निकल कर चौथे भाव में गोचर करेंगे I यह इंगित करता है के जो बाइडेन किसी भी प्रकार के वाद विवाद से दूर रहेंगे और सूक्ष्म वार्तालाप द्वारा अपने विचार विश्व के सामने रखेंगे I बाइडेन कोई भी महत्वपूर्ण स्टेटमेंट से अपने आप को दूर रखेंगे और युद्ध की स्थिति के लिए कड़े तौर पर बाहर रहेंगेI अमेरिका एक विश्व शक्ति है और यदि यह समझौते करवाने की और कदम बढ़ाएगा तो स्थिति समय रहते संभाल में आ सकती है और ज्योतिषीय गणित के अनुसार  इसकी पूरी उम्मीद है I

रूस के राष्ट्रपति ब्लादिमीर पुतिन की कुंडली   

पुतिन के लिए बुध भाग्येश व व्ययेश जो की अब छोटे घर से पांचवें घर में गोचर कर रहा हैI बुध की पांचवें घर में स्थिति उनके विवेक में वृद्धि करेगी और उन्हें सही राह पर चलने के लिए प्रेरित करेगी जो की युद्ध से परे हो सकता है I रूस ने हमेशा ही यूक्रेन की मदद की है और २०१९ में यूक्रेन व रूस ने विश्व में गेहूं व इस्पात का अधिकतम निर्यात किया था पर अब वो परस्पर शत्रुता को दर्शा रहे है I यूक्रेन ने नाटो से हाथ मिलाने के चक्कर में विश्व की सबसे बड़ी ताकत रूस से टक्कर ली है पर बुध का गोचर इस द्वेष के भाव को नियंत्रण में लाने में मदद करेगा I

पुतिन की कुंडली में नवें भाव के मालिक का अपने से नवां बैठना भाग्यदायक सिद्ध होगा व अब विश्व के समस्त देश रूस का समर्थन करते नज़र आएंगे I यह स्थिति वाणी से पुतिन को अत्यंत समृद्धशाली बनाएगा और वह अपनी बात को विश्व के समक्ष रखेंगे जिसका समर्थन अधिकतम देशों द्वारा किया जायेगा I यूक्रेन का नाटो से सम्बन्ध रूस के लिए एक खतरा है जिसे वह कभी भी पूरा नहीं होने देगा पर बुध इस स्थिति को बातचीत से सुलझाने की कोशिश करेगा I जहां तक भारत की बात है तो मोदी जी इन वाद विवादों से अपने को पृथक रखेंगे और शांति विश्व दूत बनकर शांति स्थापना का प्रयास करेंगे I

निष्कर्ष 

ज्योतिष सिद्धांतो व ग्रहों की स्थिति के अनुसार यदि भारत व अमेरिका जैसे देश रूस- यूक्रेन वाद विवाद से दूर रहेंगे तो तीसरे विश्व युद्ध की संभावना टल सकती है जो की कुंडलियों के अनुसार एक संभव स्थिति लगती है I जल्द ही कोई न कोई शांति समझौता सामने आएगा जो रूस के पक्ष में फैसला देकर इस युद्ध पर विराम लगा देगा I रूस भी युद्ध के विचार को त्याग कर समझौता करने को अग्रसर होंगे I


Previous
Sankashti Chaturthi March 2022- Get rid of all kind of miseries in life!

Next
Gudi Padwa 2022- Date, rituals and significance