लाना है लक्ष्मी जी को तो कभी न करें ये गलतियां

By: Future Point | 30-Nov-2017
Views : 8778
लाना है लक्ष्मी जी को तो कभी न करें ये गलतियां

लाना है लक्ष्मी जी को तो कभी न करें ये गलतियां


परमेश्वर के 3 रूपों में से एक भगवान विष्णु को पालनहार माना जाता है. विष्णु ने ब्रह्मा के पुत्र भृगु की पुत्री लक्ष्मी से विवाह किया था. शिव ने ब्रह्मा के पुत्र दक्ष की कन्या सती से विवाह किया था|विष्णु ही व्यक्ति को सुख, शांति और समृद्धि देने वाले देव हैं. विष्णु की पूजा और प्रार्थना करने से लक्ष्मीजी प्रसन्न होती है. लक्ष्मीजी के 18 पुत्रों की भी पूजा करने से धन की प्राप्ति होती है. शास्त्रों में शाम का विशेष महत्व बताया गया है। माना जाता है कि शाम को कुछ बातों का ध्यान रखा जाए तो महालक्ष्मी सहित सभी देवी-देवताओं की कृपा प्राप्त की जा सकती है। शाम को पूजा आदि कर्म तो सभी करते हैं, लेकिन कुछ ऐसे काम भी बताए गए है जो शाम को नहीं करना चाहिए, वरना महालक्ष्मी हमारा घर छोड़ सकती हैं। लक्ष्मी कृपा के बिना दरिद्रता का सामना करना पड़ सकता है। यहां जानिए ऐसे कुछ काम, जो शाम को नहीं करने चाहिए।

1. तुलसी के पास दीपक जलाएं, लेकिन जल न चढ़ाएं -


रोज शाम को तुलसी के पास दीपक जलाना चाहिए। ऐसा करने पर घर में सुख-समृद्धि बनी रहती है। तुलसी में जल चढ़ाने के लिए सुबह का समय श्रेष्ठ रहता है। शाम के समय तुलसी में न तो जल चढ़ाना चाहिए और ना ही पत्ते तोड़ना चाहिए। शाम को तुलसी को छूना भी नहीं चाहिए।

2. शाम को झाडू नहीं लगाना चाहिए -


ध्यान रखें कि शाम को झाडू नहीं लगाना चाहिए। ऐसा करने पर घर से सकारात्मक ऊर्जा बाहर निकल जाती है और घर में दरिद्रता आती है। शाम से पहले ही घर साफ कर लेना चाहिए।

3. स्त्री का अपमान न करें -


शाम के समय किसी भी परिस्थिति में किसी स्त्री का अपमान नहीं करना चाहिए। घर के अंदर हो या बाहर स्त्रियों से हमेशा ही सही ढंग से व्यवहार करना चाहिए। स्त्रियों का अपमान करना पाप माना गया है और जो लोग ये पाप करते हैं, वे कभी सुखी नहीं रह पाते हैं।

4. बुराई और चुगली न करें -


दूसरों की बुराई करना या चुगली करना भी पाप ही है। इस काम से हमेशा बचना चाहिए। विशेष रूप से शाम के समय किसी बुराई या चुगली न करें। कुछ लोगों को दूसरों की बुराई करने में आनंद मिलता है, लेकिन ऐसा करने से हमें कोई लाभ नहीं मिलता है, बल्कि समाज में हमारी ही इज्जत कम होती है।

5. क्रोध न करें -


जो लोग बहुत अधिक गुस्सा करते हैं, वे खुद के स्वास्थ्य को तो नुकसान पहुंचाते हैं, साथ ही दूसरों को भी दुख देते हैं। कभी-कभी क्रोध में ऐसी बातें भी कह दी जाती हैं, जिनसे परेशानियां और अधिक बढ़ जाती हैं। किसी भी प्रकार क्रोध को काबू कर लेना चाहिए। क्रोध करेंगे तो घर में अशांति बढ़ जाएगी। शाम को लक्ष्मी पृथ्वी का भ्रमण करती हैं और ऐसे में हमारे घर में अशांति होगी तो लक्ष्मी की कृपा प्राप्त नहीं हो पाएगी।

6. सोना नहीं चाहिए -


शाम को सोना स्वास्थ्य के लिए अच्छा नहीं है। जो लोग शाम को नियमित रूप से सोते हैं, वे मोटापा का शिकार हो सकते हैं। जो लोग बीमार हैं, बुजुर्ग हैं, जो स्त्री गर्भवती है, वह शाम के समय सो सकती है। स्वस्थ लोगों को शाम को सोना नहीं चाहिए, वरना आलस्य बढ़ेगा। जिन घरों में लोग शाम को सोते हैं, वहां लक्ष्मी निवास नहीं करती हैं।

7. प्रेम-प्रसंग से बचें -


पति-पत्नी को शाम के समय संबंध नहीं बनाने चाहिए। इस काम के लिए रात का समय ही सर्वश्रेष्ठ रहता है। शाम को घर का वातावरण धार्मिक और पवित्र बनाए रखना चाहिए। संबंध बनाने के बाद शरीर की पवित्रता खत्म हो जाती है, इसीलिए शाम को इस काम से बचें।

8. नशा न करें -


कई लोगों की आदत होती है कि वे शाम को नशा करते हैं, ये गलत आदत है। नशा कभी भी लाभदायक नहीं हो सकता है, इसकी वजह से शरीर कमजोर होता है। साथ ही, घर की शांति भी खत्म हो जाती है। नशे की हालत में सोचने-समझने की शक्ति खत्म हो जाती है और व्यक्ति सही-गलत का फर्क भी भूल जाता है। इसीलिए नशा नहीं करना चाहिए।


Previous
राशि बताएगी आपकी कमियां

Next
धन दान देना भी बन सकता है फांसी का कारण - जी हां ये सच है