कन्या राशि

Virgo


भौतिक लक्षण :

मध्यम कद, काले बाल और आंख, त्वरित चुस्त चाल, वास्तविक आयु से कम के प्रतीत होते हैं, विकसित छाती, सीधी नाक, पतली और तीखी आवाज, धनुषाकार धनी भौंहें, गर्दन या जांधों पर निशान।

अन्य गुण :

बहुत बुद्धिमान, विश्लेषक, विलक्षण बुद्धि वाला अन्य की भावनाओं और त्रुटियों का निंदक। भाषाओं के ज्ञानी होते हैं और किसी प्रक्रिया को समझने में वैज्ञानिक दृष्टिकोण का उपयोग करते हैं। भावनाओं में बह जाते हैं। सोच समझ कर निर्णय लेते हैं। आत्मविश्वास की कमी, घबराये से रहते हैं। सुव्यवस्थित अपने विचार की बारीकियों को समझने में सक्षम होते हैं। स्वयं के स्वार्थ के प्रति जागरूक, मितव्ययी, कूटनीतिज्ञ, चतुर होते हैं। गृहसज्जा में निपुण, गणितज्ञ, परविद्या में रुचि होती है।

उदर रोगों से सावधान रहना चाहिए। पेचिश, टायफायड, पथरी आदि संभाव्य रोग है। विवाह में विलंब, वैवाहिक जीवन सुखी, संतान कम होती है। आय उत्तम, कार्य-व्यवसाय में सफलता, संपत्ति के मालिक होते हैं। नाममात्र की व्याधि होने पर भी डॉक्टर के पास चले जाते हैं। पृथ्वी तत्व की राशि होने के कारण बागवानी और खेती में रुचि लेते हैं। धन संचय में रुचि होती है।

20 से 25 वर्ष की आयु में सफल और साहसी होते हैं। 25 से 35 वर्ष की आयु में स्वयं का मकान होता है। 36 से 48 वर्ष कष्टप्रद होते हैं। 49 से 62 वर्ष सौभाग्यशाली होते हैं, अचानक लाभ होता है। 23 और 24वें वर्ष बहुत उत्तम रहते हैं जबकि 4, 16, 22, 36 और 55 वें वर्ष कष्टप्रद होते हैं। जीवन के अंतिम चरण में टी. बी. हो सकती है।

स्त्री राशि, मनोरंजन के स्थान, चारागाह, शुभ राशि, मध्यम कद शीर्षोदय राशि, पौधों वाली भूमि, कन्धों तथा भुजाओं का झुकना, सच्चा दयालुता, काले बाल, अच्छी मानसिक योग्यता, विधि अनुसार कार्य करने वाली तर्कशील होती है।



View This Page In English



नवंबर

कन्या

यह मास आपके लिए ग्रह गोचर के अनुसार सामान्य सकारात्मक होने की संभावना रहेगी। बनते-बनते कार्यों में बाधाएं आयेंगी। मास के उत्तरार्द्ध में अपेक्षाकृत समय स्थिति कुछ सकारात्मक रहेगा। अपने धैर्य को बनाए रखें। सामाजिक गतिविधियों में अभिरूचि बढे़गी परंतु गुप्त शत्रुओं के चलते मान-सम्मान में कमी आ सकती है। गलत लोगों से बचकर रहें।

स्वस्थ्य:

पेट से संबंधित बीमारियों के प्रति विशेष सावधानी रखें। खाद्य पदार्थों में संयम रखें। आलस्य से दूर रहें। तनाव से बचें।

धन-सम्पत्ति:

आर्थिक क्षेत्र में पूंजी-निवेश आदि सोच-समझकर करें। अनावश्यक धन खर्च होने की संभावना रहेगी। संपत्ति के लेन-देन में जल्दबाजी न करें, इस संबंध में अपने हितैषी लोगों से पहले सलाह कर लें।

कार्य व्यवसाय:

आजीविका के क्षेत्र में संघर्षों के बाद आशा की किरण दिखाई देगी। अपने सहकर्मियों के साथ तालमेल बनाए रखें।

प्रेम सम्बन्ध:

परस्पर एक दूसरे की भावनाओं का सम्मान करें। किसी के बहकावे में न आयें।

दाम्पत्य जीवन :

पति-पत्नी के बीच सकारात्मक व्यवहार बना रहेगा। पारिवारिक सदस्यों के साथ किसी पर्यटक स्थल की यात्रा पर जाने के योग बनेंगे।

उपाय:

बुधवार को राहु बीज मंत्र ऊँ भ्रां भ्रीं भ्रौं सः राहवे नमः की सूर्यास्त के बाद 108 बार जप करें।

स्वस्थ्य कष्ट:

7, 17, 24, 25


अपनी मुफ्त व्यक्तिगत कुंडली प्राप्त करने के लिए, यहां क्लिक करें.  

Make Free Online Horoscope

moti-monga-locket-sideadv-1 sriyantra-ring-sideadv-2 ganesh-feroza-locket-sideadv-3

Best astrology software leostar

Baglamukhi chowki

Astrology software for android mobile/tab

shop.futurepointindia.com