Sorry, your browser does not support JavaScript!
Leo

Kumbh Rashi

gyan, manviya, ganbhir, vyavharik

Shubh Ratna: Neelam
Shubh Rang: Kala
Shubh Ank: 22
Shubh Grah: shani
   
Share:

Read in english    हिन्दी में पढ़े

Bhautik lakshan Kumbh Rashi

madhyam kad, hashta-pusht, chehra sundar aur gol, gal bhare hue, kanptiyan aur janghen viksit hoti hain. gora rang, bhure bal, asundar dant, pindliyon men massa, sharir par ghane bal hath aur pair mote, nasen viksit hoti hain.

Anya gun dharm :

manviya drishtikon aur pragtishil jivan aur uski samasyaon ke prati svasth drishtikon rakhte hain. sankochi hote hain, nirnay lene se purva purn naptol karte hain ya anya logon dvara karyaranbh karne tak pratiksha karte hain. sada satarkata, dhairya, ekagrata, adhyaynshilta se yukt rahte hain. vartalap ruchikar hota hai. spashtavadi, sabke priya hote hain. dayalu, adhyayan premi aur sajjan hote hain. prakritipremi hote hain. mitrata nibhate hain, ruchi-aruchi tivra hoti hai. ekantapriya hote hain. atindriya shakti se yukt hote hain, dhyan-sadhna men ruchi hoti hai. smaranashakti tivra, drishtikon vaigyanik hota hai.

gribon ke sevak hote hain. navin taknik aur mashinri, anusandhan, nivesh adi dvara dhanarjan karte hain. takniki shiksha men ruchi hoti hai. parivar se lagav hota hai. jivnsathi ke chunav men ayu ko andekhi kar buddhi aur shiksha men samanta par jor dete hain. grih susajjit hota hai jismen adhunik dhang se puratatvik samagri ekatrit rahti hai. apne prem ko abhivyakt nahin karte. agar inka premi vasanapriya ho to vah asantusht hota hai kyonki kunbh rashi ke vyakti shital hote hain.

sanbhavya rog kunbh rashi :

sankramak rog, dant vyadhi, tonsil adi 22 se 40 varsh ki ayu men sanpannata rahti hai. 41 se 43 varsh men hathiyar, lohe ya kashth se chot ki ashanka rahti hai. 44 se 67 varsh bhagyashali hote hain. 68 varsh se bad ka samay ashubh hota hai.

Ashubh varsh kunbh rashi

33, 48, 64

ve sthan jahan pani sukh jata hai, jahan sharab banti hai, jahan pakshi rahte hain aur jahan ghare rakhe jate hain. pap rashi, dinbli, shirshoday, dekhne men sundar, pratibhavan, kshamashil svabhav ka hota hai. purush rashi hai.

android spy software adventureswithtravisandpresley.com spyware apps
cipro xr 500mg ciprofloxacin 500mg antibiotics 500 mg ciprofloxacin
finasteride mikemaloney.net cephalexin 250mg
discount drug coupons site free cialis coupon

Kumbh Rashi Ke upyukt vyawsay

Salahkar, injiniyar, doktar, jyotishi, takniki aur maikenikal naukriyan

women who want to cheat site when women cheat
how do you get a girlfriend faithwalker.org i cheated on my girlfriend but i love her
help i cheated on my boyfriend did my boyfriend cheated on me how to get your boyfriend to cheat on you
coupons prescriptions singlvkuchyni.cz prescription drugs discount cards
ways to terminate early pregnancy abortion pill how to terminate early pregnancy

Kumbh Rashi Ki Mitra Rashiyan

Mithun, vrishabh, kanya, tula, makar rashi

Kumbh Rashi ka Tatva

Hava

Kumbh Rashi Ka sambaddha chakra

muladhar


मासिक एवं वार्षिक राशिफल कुंभ राशि

दिसंबर

कुंभ

यह मास आपके लिए अधिकांशतः सकारात्मक रहने की संभावना रहेगी। पूर्व से चली आ रही समस्याओं के हल होने के संकेत प्राप्त होंगे। आप अपनी बुद्धिमत्ता से अपनी विपरीत परिस्थितियों को अनुकूल बनाने में सफल होंगे। समाज में आपके प्रति लोगों का आकर्षण बढ़ेगा।

स्वस्थ्य:

स्वास्थ्य से संबंधित कोई बड़ी परेशानी कम होगी। अपनी दिनचर्या को व्यवस्थित रखें। शारीरिक आराम का ध्यान रखें।

धन-सम्पत्ति:

आर्थिक स्थिति में सुधार होगा। जमापूंजी धन में वृद्धि होगी। किसी शुभ मांगलिक कार्य में धन खर्च भी होगा। नवीन संपत्ति के क्रय के संबंध में योजना बनेगी। इस संबंध में सोच विचारकर निर्णय लें।

कार्य व्यवसाय:

कार्य क्षेत्र में परिवर्तन आदि होने की संभावना रहेगी। पुरानी समस्याओं के सुलझने के योग बनेंगे। निजी व्यवसाय करने वाले लोगों के लिए परिस्थितियां अधिकांशतः अनुकूल रहेंगी जिसके कारण व्यक्ति अपने व्यवसाय का विस्तार कर सकता है।

प्रेम सम्बन्ध:

प्रेम संबंधों में उतार-चढ़ाव बना रहेगा। परस्पर सहयोग को बढ़ावा दें।

दाम्पत्य जीवन :

दांपत्य जीवन में सुख शांति बढ़ेगी। मन प्रसन्न रहेगा।

उपाय:

बुधवार के दिन ऊँ स्रां स्रीं स्रौं सः केतवे नमः मंत्र की पांच माला जप करें।

स्वस्थ्य कष्ट:

4, 5, 21, 22, 23

2016

कुंभ राशि (गू, गे, गो, सा, सी, सू, से, सो, दा)

व्यवसाय:

आपका राशिस्वामी शनि इस समय कर्म भाव में स्थित है। शनि की यह स्थिति आपको उच्च महत्वाकांक्षी बना रही है। अधिक से अधिक आय प्राप्त करने के प्रयास आप इस समय में करते रहेंगे। जन्मस्थान से दूरी भी संभावित है। परिश्रम के बल पर आप अपने व्यवसाय में वृद्धि करेंगे व धन संपत्ति में वृद्धि करेंगे। व्यापार में उन्नति व आशा से अधिक लाभ की संभावना बढ़ेगी। आप इस वर्ष नई संपत्ति में निवेश करेंगे।

धन-संपत्ति:

इस वर्ष राहु आपके आठवें भाव से निकल कर गुरु के साथ युति संबन्ध बनायंेगे। गुरु-राहु की युति चांडाल योग का निर्माण करेगी। मान-सम्मान व आर्थिक पक्ष से यह योग अनुकूल फलदायक होता है। इस अवधि में पारिवारिक दुविधाएं बढ़ सकती हैं। व्ययों की अधिकता बनी हुई है। जनवरी माह में सूर्य गुरु में राशिपरिवर्तन योग भी बन रहा है। ऐसे में उच्चाधिकारियों से डांट-फटकार मिल सकती है।

घर-परिवार-समाज:

पारिवारिक दृष्टि से यह वर्ष अच्छा रहेगा। परिवार में मांगलिक कार्य होंगे। सुख व संपन्नता का माहौल रहेगा। शनि की चतुर्थ भाव पर दृष्टि माता के स्वास्थ्य के लिए शुभकर नहीं है, अतः माता के स्वास्थ्य का ध्यान रखें। भाई-बहनों से संबंध अच्छे रहेंगे। माता-पिता से संबंध मधुर रहेंगे।

स्वास्थ्य:

इस वर्ष आप कुछ चिन्ता का अनुभव करेंगे। अकारण चिन्ता करने से कुछ हासिल नहीं होगा। आप चिन्ताओं से उबरने की कोशिश करें वरना आपको किसी मानसिक रोग अथवा मस्तिष्क संबंधी विकार का सामना करना पड़ सकता है।

करियर एवं प्रतियोगी परीक्षाएं:

शिक्षार्थियों के लिए समय की शुभता बनी हुई है। अदालती मामलों में समझौता होने से फायदा होगा। आत्मविश्वास में किसी प्रकार की कमी न करें। सकारात्मक बने रहें।

यात्रा-प्रवास-तबादला:

इस वर्ष आपके द्वारा जल्दी-जल्दी यात्राएं करने की संभावना बन रही है। परिवार के साथ आप आनंददायक यात्राओं में समय व्यतीत करेंगे। आध्यात्मिक प्राप्ति के लिए आप तीर्थ स्थल की यात्रा व कुछ समय प्रवास कर सकते हैं। देश-विदेश में घूमने के मौके मिलेंगे। अवांछित प्रवास भी हो सकता है। इस वर्ष तीर्थयात्रा पर जाना अनुकूल फल प्रदान करेगा। भगवान की भक्ति में आप लीन रहंेगे।

धर्म-कार्य-ग्रह शांति:

आपके लिए शिव चालीसा का पाठ करना लाभप्रद रहेगा व आपको दुर्गा सप्तशती का पाठ करना चाहिए। रूद्राक्ष की माला धारण करें। प्रत्येक गुरुवार गाय को गुड़ चना खिलाएं।

* These characteristics of Zodiac signs are general and should not be accepted literally because for complete analysis of the personality and nature of a person the Moon sign, ascendant sign and ascendant lord should also be analysed for which horoscope reading is inevitably essential.To get your free personalized horoscope click here

Pramukh Kundli Report

Sabse Adhik Bikane wali kundli prapt karein

Vedic Jyotish par aadharit vibhinna vedic kundli uplabdha hain. Upyogkarta apne pasand ki koi bhi kundli bana sakte hain.

Bhrigu Patrika

Prishtha :  190-191
Free Namoona : Hindi | Angrejee

Kundli Darpan

Prishtha :  90-91
Free Namoona : Hindi | Angrejee

Kundli Phal

Prishtha :  40-45
Free Namoona : Hindi | Angrejee

Matching-M3

Prishtha :  40-42
Free Namoona : Hindi | Angrejee

My Kundli

Prishtha :  21-24
Free Namoona : Hindi | Angrejee

Consultancy

Hamare visheshagya apki samashyayon ko hal karne ke liye taiyar hai.

Bharat ke prasiddha jyotishiyon se bhavishyavaniyan janiye. Jyotish ka uddeshya bhavishya ke sateek bhavishyavanee dene ke liye hai, lekin iski upyogita hamari samashyawon ko sahi aur prabhavi samadhan me nihit hai . Isliye aap apne mitra jyotishi se kewal apna bhavishya janne ke liye nahi balki samashyawon ka prabhavi samadhan prapt karne ke liye paramarsh karen.

Astrologer Arun Bansal

Arun Bansal

Anubhav:   30 Varsh

Vristrit Paramarsh

$ 59.99 Consult

Astrologer Yashkaran Sharma

Yashkaran Sharma

Anubhav:   18 Varsh

Vristrit Paramarsh

$ 39.99 Consult

Astrologer Abha Bansal

Abha Bansal

Anubhav:   15 Varsh

Vristrit Paramarsh

$ 39.99 Consult

free horoscope button